पटना, जेएनएन। परसाबाजार थाना क्षेत्र के खपरैलचक में शिक्षक के इकलौते पुत्र को उसके दोस्तों ने घर से बुलाकर जहर देकर मार डाला। मृतक की पहचान खपरैलचक निवासी उमेश प्रसाद के 25 वर्षीय पुत्र बिट्टू कुमार के तौर पर हुई है। थानेदार संजय कुमार ने बताया कि पिता उमेश प्रसाद ने पुत्र की हत्या का आरोप अमित कुमार, टिंकू कुमार, पंकज कुमार व एक अन्य पर लगाया है। उन्होंने कहा कि प्रथमदृष्टया मौत का कारण नशा का ओवरडोज लगता है। आरोपित अमित कुमार भी नशा के ओवरडोज के कारण कंकड़बाग स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती है। पोस्टमाॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या कैसे हुई, इसका पता चल पाएगा।

पुलिस का कहना, शराब के ओवरडोज से गई जान

मामले में पुलिस कुछ अलग ही कह रही है। थानेदार के अनुसार बिट्टू कुमार को स्मैक व शराब की लत थी। शनिवार को अपने दोस्तों के साथ शराब पीने पालीगंज गया था और वहीं शराब के ओवरडोज के कारण उसकी मौत हुई। बिट्टू के चाचा अजय कुमार ने बताया कि बिट्टू पंकज कुमार के साथ शनिवार को घर से बाइक से निकला था। दो घंटे बाद जब बिट्टू घर लौटा तो बाइक नहीं थी। उसके बाद घर से कार लेकर निकला और देर रात तक नहीं लौटा। रविवार को अमित व टिंकू कार में बिट्टू को बेहोश लेकर घर पहुंचे। घरवाले बिट्टू को डॉक्टर के पास ले गए जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

चार दोस्तों ने प्लान बनाकर ली जान

पिता उमेश व अन्य स्वजनों का कहना है कि चारों दोस्तों ने सुनियोजित तरीके से बिट्टू को घर से बुलाकर पहले जहर दिया और उसके बाद उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी। शरीर पर जख्म के कई निशान भी पाए गए हैं। दो वर्ष पहले बिट्टू ने सोनी कुमारी के साथ प्रेम विवाह किया था। उसे दो वर्ष का एक पुत्र भी है। पत्नी सोनी देवी का रो-रोकर बुरा हाल है।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस