संसू, फतुहा : स्टेशन के समीप औद्योगिक प्रांगण जाने वाली सड़क में शुक्रवार को बरगद पेड़ के नीचे बारिश से बचने के लिए के खड़े लोग वज्रपात की चपेट में आ गए। चार लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल हो गए। घायलों को फतुहा अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। मरने वालों में एक गर्भवती और एक बच्ची भी शामिल है। मरने वालों में कौशल देवी पति करण सिंह, यमुना सिंह, कन्हैया सिंह एवं सरस्वती नौ वर्ष के रूप में हुई। घायलों में माला देवी एवं भोला कुमार शामिल हैं। सभी पश्चिम बंगाल के पुरुलिया के रहने वाले थे।

घायल लोगों ने बताया कि हमलोग फतुहा स्टेशन के दक्षिण छोर पर करीब एक माह से तंबू लगाकर रह रहे थे। शुक्रवार दोपहर तेज आंधी के साथ बारिश होने लगी। इससे बचने के लिए फतुहा स्टेशन के एक नंबर प्लेटफार्म पूर्वी छोर के नीचे फैक्ट्री एरिया जाने वाली सड़क में एक बरगद के पेड़ नीचे आंधी एवं बारिश से बचने के लिए रुके थे। थोड़ी ही देर के बाद तेज आवाज के साथ पेड़ पर ठनका गिरा। पेड़ पर ठनका गिरते ही जोर का झटका लगा। आसपास के लोग इधर उधर भागने लगे। ठनका गिरने से छह लोग पूरी तरह झुलस गए। सूचना मिलते ही फतुहा व रेल पुलिस घटना स्थल पर पहुंची तथा सभी घायलों को इलाज के लिए फतुहा अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल पहुंचने पर डाक्टरों ने चार लोगो को मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप