संवाद सहयोगी, दानापुर (पटना) : राजधानी के रूपसपुर थानांतर्गत विश्वेश्वरैया नगर के साकेत सदन अपार्टमेंट के प्रथम तल के फ्लैट संख्या 102 स्थित कमरे में नौबतपुर उत्तरी के पूर्व जिला पार्षद राकेश कुमार उर्फ गुड्डू शर्मा (45) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना की जानकारी मिलने के बाद स्वजनों ने पुलिस को सुबह करीब सात बजे सूचना दी। दानापुर के एएसपी अभिनव धीमान और थानाध्यक्ष रामानुज राय ने घटनास्थल पर छानबीन की। राकेश कमरे में बिस्तर पर पेट के बल पड़े थे। मुंह और नाक से खून निकला हुआ था। सिर के नीचे खून से सना तकिया पड़ा था। सिर के पीछे भी जख्म का निशान था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया। अस्पताल सूत्रों के मुताबिक, राकेश के सिर में पीछे से गोली मारी गई है। सिर से 0.22 बोर की एक गोली भी मिली है। हालांकि, पुलिस आधिकारिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। एफएसएल की टीम ने भी घटनास्थल से साक्ष्य एकत्र किए हैं।

चोरी के शक पर पत्नी ने किया भैंसुर को फोन

राकेश की पत्नी अलका कुमारी सुबह चार बजे रोज की तरह मार्निंग वाक पर जाने के लिए उठीं तो उन्होंने कमरे का दरवाजा बाहर से बंद पाया। काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला तो उन्होंने भैंसुर रविशंकर को काल कर घर में चोरी की आशंका जताई। इतने में दरवाजा खुल गया। उन्होंने देखा कि दरवाजे की कुंडी बाहर से रस्सी के सहारे बेसिन से बंधी थी। इसके बाद वे पति के कमरे में गईं, जहां राकेश मृत अवस्था में मिले। अलका चीखने-चिल्लाने लगीं। उनकी चीखें सुनकर बेटा शशांक साहिल (17) दौड़ते हुए कमरे में आया। इसके बाद अपार्टमेंट के गार्ड और दूसरे फ्लैट में रहने वाले लोग भी पहुंचे। रविशंकर के पहुंचने पर पुलिस को खबर दी गई। 

बंद थी खिड़की और मेन गेट का दरवाजा

स्वजनों ने पुलिस को बताया कि राकेश के कमरे की खिड़की बंद थी। एसी चालू था। फ्लैट का मेन गेट भी खुला नहीं था। हालांकि, बालकनी का दरवाजा खुला था। पुलिस की जांच में प्रथमदृष्टया बालकनी से किसी के प्रवेश करने की संभावना नहीं जताई जा रही है। शशांक ने पुलिस को राकेश के कमरे की अलमारी से उनकी लोडेड रिवाल्वर निकाल कर दी। राकेश के बदन पर केवल हाफ पैंट था। अस्पताल सूत्र बताते हैं कि राकेश को चार-पांच फीट की दूरी से सिर में गोली मारी गई है। घटना के वक्त वे गहरी नींद में थे। 

दानापुर एएसपी अभिनव धीमान ने कहा कि प्रथमदृष्टया हत्या की आशंका जताई जा रही है। हत्या कैसे हुई? यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्पष्ट होगा। कारणों का पता लगाया जा रहा है। पत्नी की लिखित शिकायत पर अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई है।

उठ रहे सवाल 

-फ्लैट का मेन गेट बंद था तो अपराधी किधर से आए? बालकनी का दरवाजा खुला था, पर उससे आना संभव नहीं है। 

-गोली चली तो उसकी आवाज किसी को भी नहीं सुनाई दी, जबकि एक ही फ्लैट के अलग-अलग कमरे में परिवार के सदस्य थे। क्या रिवाल्वर में साइलेंसर था? 

-अपराधी आए तो किधर से? अपार्टमेंट में रहने वाले किसी की भी नजर नहीं पड़ी? 

Edited By: Akshay Pandey