संवाद सहयोगी, लाखो (बेगूसराय) : ख्यात लोकगायिका पद्मभूषण शारदा सिन्हा के घरेलू दरबान रहे लाखो ओपी क्षेत्र के अयोध्याबाड़ी लालूनगर निवासी 55 वर्षीय ललन महतो की गुरुवार की रात अपराधियों ने सोए अवस्था में गोली मार हत्या कर दी। उनके सीने व सिर में दो गोली मारी गई है। मौके पर ही उनकी मौत हो गई थी। सुबह छह बजे पड़ोसियों ने खून से लथपथ शव देखकर पुलिस को घटना की जानकारी दी है। मूल रूप से मटिहानी थाना क्षेत्र के जिल्ला पुनर्वास  निवासी ललन महतो की पत्नी की मौत आठ वर्ष पूर्व रेल पटरी पार करने के दौरान ट्रेन से कटकर हो गई थी। कोरोना काल में पटना से शारदा सिन्हा के यहां से लौटने के बाद से वे अकेले ही लालूनगर में रहते थे।

आक्रोशित लोगों ने उठने नहीं दिया शव, तीन घंटे एनएच जाम

हत्या की सूचना मिलते ही लाखो ओपीध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने का प्रयास करने लगे। इस बीच घटना से आक्रोशित लोगों ने एनएच-31 के खातोपुर चौक के समीप शव को सड़क पर रखकर आवागमन बाधित कर दिया। ग्रामीण हत्यारों की गिरफ्तारी व मृतक के स्वजनों को मुआवजा दिलाने की मांग कर रहे थे। सड़क जाम की जानकारी मिलते ही मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजेश कुमार राय व अंचलाधिकारी दीपक कुमार मौके पर पहुंचे। उन्होंने उचित मुआवजे व हत्यारों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा और आवागमन चालू कराया। तीन घंटे एनएच-31 जाम रहने से लंबी दूरी की बसें, स्कूली बस से घर लौट रहे बच्चे गर्मी से बिलबिलाते रहे। घटना के कारणों के संबंध में कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है। पुलिस स्वजन व स्थानीय लोगों से पूछताछ के आधार पर हत्या के कारणों की पड़ताल में लगी है।

Edited By: Akshay Pandey