फुलवारीशरीफ (पटना)। गोपालपुर थाना के मानपुर बैरिया स्थित एक ब्रेड फैक्ट्री में शॉर्ट सर्किट से भीषण आग लग गई। इसमें 50 लाख की संपत्ति के नुकसान की बात कही जा रही है। इस अगलगी में तीन मजदूर भी बुरी तरह झुलस गए। जानकारी के अनुसार मानपुर बैरिया में ऋषभ दत्ताल ने चार माह पहले ही 'ओवेन फ्रेश' ब्रांड नाम से ब्रेड बनाने की कंपनी खोली है। इसमें दर्जनों मजदूर काम करते हैं। मंगलवार की सुबह 11 बजे इस पाच मंजिला फैक्ट्री में भीषण आग की लपटें उठने लगीं। मजदूरों ने बताया कि ग्राउंड फ्लोर में शॉर्ट सर्किट से आग लगी और पूरी इमारत को अपने चपेट में ले लिया। नीचे काम कर रहे सुशील, राजू साह व एक अन्य मजदूर इस अगलगी में बुरी तरह झुलस गए। चंद मिनटों में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। आधा दर्जन से ज्यादा मजदूर सबसे ऊपरी फ्लोर पर जान बचाने की जद्दोजहद में घटों फंसे रहे। स्थानीय लोगों के अनुसार फैक्ट्री में दो सिलेंडर भी फटने की आवाज सुनाई दी। सूचना पाकर अंचलाधिकारी डॉ. मुकुंद कुमार झा और थानेदार आलोक कुमार दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। दमकल की आठ गाड़ियों ने स्थानीय लोगों की मदद से चार घटे बाद आग पर काबू पाया।

ऊपरी मंजिल पर थी 1400 लीटर डीजल की टंकी : इमारत की पाचवीं मंजिल पर डीजल स्टोर करने के लिए टंकी है। बताया जा रहा है कि इस टंकी में 1400 लीटर डीजल था, जिसे पाइप के जरिए मशीनों तक पहुंचाया जाता था। इस मंजिल तक आग पहुंच जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था।

चंदू ने बचाई आधा दर्जन मजदूरों की जान : कई मजदूरों ने छत से कूद कर जान बचाई तो वहीं आधा दर्जन मजदूर जान बचाने के लिए सबसे ऊपरी मंजिल पर पहुंच गए। गाव का एक युवक चंदू कुमार रस्सी के सहारे पाचवीं मंजिल तक पहुंचा और वहां फंसे मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। इस दौरान चंदू भी मामूली तौर से झुलस गया। अंचलाधिकारी डॉ. मुकुंद कुमार झा ने चंदू को पुरस्कृत करने के लिए प्रस्ताव भेजने की बात कही है।

फैक्ट्री में नहीं था सेफ्टी का प्रबंध : स्थानीय लोगों ने बताया कि ग्राउंड फ्लोर पर आग लगते ही मजदूरों को पता चल गया था, लेकिन आग बुझाने की कोई कारगर व्यवस्था नहीं होने के कारण स्थिति थोड़ी ही देर में बिगड़ गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस