पटना सिटी। खाजेकलां थाना से 500 गज की दूरी स्थित खाजेकलां घाट पर बुधवार की शाम दोस्त दीपक के अंतिम संस्कार में पहुंचे गुरहट्टा निवासी राहुल जैकर उर्फ सूरज को बाइक सवार चार अपराधियों ने घाट पर ही दौड़ाकर गोलियों से छलनी कर दिया। दीपक की हत्या मामले में राहुल चश्मदीद था। बताया जा रहा है कि सोमवार की रात अपराधियों ने राहुल के सामने ही दीपक के सिर में सटाकर गोली मार दी थी। इलाज के दौरान मंगलवार की शाम दीपक की मौत हो गई।

एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि हत्या में आपसी रंजिश की बात सामने आ रही है। पुलिस बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। जल्द ही सभी आरोपितों की गिरफ्तारी होगी।

पहले नाम पुकारा, फिर दौड़ाकर मार दी गोली

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो घाट पर दीपक के दाह संस्कार में पहुंचे राहुल के बारे में पहले अपराधियों ने पूछा। राहुल जैसे ही नजर आया दो अपराधी कमर से पिस्टल निकाल कर उसे घाट पर दौड़ाने लगे। फिर अपराधियों ने उसके पैर और कमर में चार गोलियां उतार दी। पीछे से फिर पीठ में चार गोलियां मारी। इससे भी मन नहीं भरा तो बेखौफ अपराधी उसके करीब गए और दीपक की तरह राहुल के सिर में भी पिस्टल सटाकर गोली मार दी। इससे राहुल की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। हत्या के बाद चर्चा है कि जिसने दीपक को मारा उसी ने राहुल की भी हत्या की है। थानाध्यक्ष ने बताया कि दो दिन पहले ही दीपक की बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। बाइक रुकवा कर दीपक के सिर में मारी गई थी गोली

दीपक के बड़े भाई जयप्रकाश यादव ने बताया कि सोमवार की रात दीपक यादव उर्फ पगलवा राजेंद्र नगर से राहुल के साथ पटना सिटी लौट रहा था। राहुल बाइक चला रहा था और दीपक पीछे बैठा था। वह अगमकुआं आरओबी पहुंचा तो पूर्व से घात लगाए बाइक सवार अपराधियों ने बाइक रुकवा कर दीपक के सिर में सटाकर गोली मार दी। गोली लगने के बाद साथ मौजूद राहुल घायल दोस्त दीपक को पहले एनएमसीएच गया जहां चिकित्सकों की हड़ताल की वजह से परिजन इलाज के लिए निजी अस्पताल ले गए। घायल दीपक ने मंगलवार की शाम निजी अस्पताल में दम तोड़ दिया। पोस्टमार्टम के बाद बुधवार को दीपक का शव घर लाया गया।

अफरा तफरी के बीच पिस्तौल लहराते हुए फरार हुए बदमाश

ताबड़तोड़ गोलीबारी होती देख खाजेकलां घाट पर भगदड़ मच गई। दो अन्य शव लेकर घाट पहुंचे सौ से अधिक लोग शव छोड़कर भागने लगे। शाम में गंगा किनारे टहलने आए लोग कंगन घाट की ओर भागते दिखे। आसपास की दुकानों के शटर गिर पड़े। अफरा-तफरी के बीच दो बाइक पर सवार चारों अपराधी पिस्तौल लहराते निकल गए। दीपक के भाई जयप्रकाश ने बताया कि राहुल चौक थाना क्षेत्र का रहने वाला है। खाजेकलां थानाध्यक्ष सनोवर खां ने बताया कि घटनास्थल से नौ गोली के खोखे बरामद हुए हैं।

----------------------

घटनाक्रम------

दोपहर 2:30 बजे: चौक थाना क्षेत्र स्थित गंगा बाबू की टेकी मोहल्ले से दीपक की शव यात्रा निकाली गई। शव यात्रा में 100 लोग से अधिक शामिल थे।

दोपहर 3:15 बजे: खाजेकलां घाट पर शव पहुंचा। दीपक को भाई जयप्रकाश ने मुखाग्नि दी। इसके बाद लोग आसपास चबूतरे पर बैठ गए।

शाम 4:15 बजे: दो बाइक पर सवार चार अज्ञात अपराधी खाजेकलां घाट पहुंचे और राहुल को खोजने लगे। चारों अपराधियों को देखते ही राहुल भागने लगा।

शाम 4:20 बजे: अपराधियों ने राहुल के पैर व कमर में दो-दो और पीठ में चार गोली मारी। फिर सिर में सटाकर एक गोली मारी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस