पटना [जेएनएन]। पटना विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में रविवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 38 छात्र-छात्राओं को गोल्ड मेडल प्रदान किया। इनमें 23 गोल्ड मेडल अपने नाम कर छात्राओं ने बाजी मारी है। समारोह पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में अपराह्न चार बजे शुरू हुआ। कार्यक्रम में राज्‍यपाल लालजी टंडन, वीसी रासबिहारी सिंह समेत काफी संख्‍या में छात्र-छात्राएं शामिल हैं। इतना ही नहीं, पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी का राज्‍यपाल लालजी टंडन ने राजभवन में गुलदस्‍ता देकर स्‍वागत किया। 

मौके पर पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने पीयू के गौरवशाली इतिहास को याद किया। उन्‍हाेंने कहा कि वर्षों पहले यहां आया था। वहीं दीक्षांत समारोह में शामिल पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी का छात्र-छात्राओं ने शोभा यात्रा निकाल कर स्वागत किया। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी और राज्यपाल लालजी टंडन ने 38 छात्र-छात्राओं को गोल्ड मेडल प्रदान किया। गोल्ड मेडल पानेवालों में 23 छात्राएं शामिल हैं। वहीं आर्ट कॉलेज के छात्र मंजीत ने पूर्व राष्ट्रप्रति और राज्यपाल को आर्ट एंड क्राफ्ट भेंट की।

कार्यक्रम में वीसी रासबिहारी सिंह ने कहा कि पटना विश्वविद्यालय संक्रमण के दौर से गुजर रहा है। शैक्षणिक, परीक्षा सत्र का नियमित होना और छात्रों का पलायन रोकना ये तीन चुनौतियां हैं। उन्‍होंने कहा कि हम इन तीनों चुनौतियों से लड़ने की कोशिश में हैं। उन्‍होंने कहा कि नैक मूल्यांकन में अच्छे स्थान प्राप्त करना हमारी प्राथमिकता है। हम शोध छात्रों का नामांकन शीघ्र लेंगे। शोध कार्य के लिए रिसर्च काउंसिल का भी गठन किया है। वीसी ने कहा कि पीयू ने चीन और नेपाल के विश्वविद्यालयों के साथ एमओयू को लेकर बातचीत की। शोध कार्य के लिए जल्द ही एमओयू पर हस्ताक्षर होगा। मार्च में पीयू की एक छात्रा अफ्रीका जाएगी। वह पर्वत फतह के लिए जाएगी। 

उधर पटना विवि के डीन (छात्र कल्‍याण) प्रो. एनके झा ने बताया कि दीक्षांत समारोह में 2017 में एक जनवरी से 31 दिसंबर के बीच पोस्‍ट ग्रैजुएशन (पीजी), एमबीए तथा डॉक्‍टरेट पीएचडी उत्तीर्ण 1800 से अधिक छात्र-छात्राओं को उपाधियां प्रदान की गयी। समारोह में उपाधि प्राप्त करने के लिए 943 छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जिनमें पीएचडी के 54 छात्र-छात्राएं हैं।

दीक्षांत समारोह में ड्रेस कोड में ही विद्यार्थियों को एंट्री दी गयी। सफेद शेरवानी के साथ मालवीय टोपी और अंगवस्त्रम भी विश्वविद्यालय प्रशासन उपाधि प्राप्त करने वालों को उपलब्ध कराया। अधिसंख्य छात्र-छात्राओं को पोशाक व अंगवस्त्रम शनिवार को उपलब्ध करा दिए गए थे। शेष छात्र-छात्राओं को पोशाक व अंगवस्त्रम कार्यक्रम स्थल पर सुबह 10:30 बजे से उपलब्‍ध कराए जाएंगे।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस