पटना । अतिक्रमण हटाने को लेकर राज्य सरकार के निर्देश के बाद पटना नगर निगम के अधिकारी अतिक्रमण स्थल को चिह्नित करने में जुट गए हैं। निगम की टीम बुधवार को पहले दिन बाकरगंज पहुंची थी। साथ में नगर प्रबंधक और दंडाधिकारी भी मौजूद थे, लेकिन पुलिस बल की संख्या कम होने से निगम अधिकारी अतिक्रमणकारियों के हमले के शिकार हो गए। अतिक्रमणकारियों ने टीम पर ईट-पत्थरों से हमला बोल दिया। इसमें नूतन राजधानी अंचल के नगर प्रबंधक चोटिल हो गए। जेसीबी को क्षतिग्रस्त कर दिया। एक महिला घायल हो गई जिसे पीएमसीएच में भर्ती कराया गया। हंगामा इतना बढ़ गया कि स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई। निगम की टीम को वापस लौटना पड़ा। नगर प्रबंधक ओम प्रकाश ने दो नामजद सहित 20-25 के खिलाफ गांधी मैदान थाने में एफआइआर के लिए आवेदन दिया है।

---------

: अतिक्रमणकारियों के सामने मूकदर्शक बनी रही पुलिस :

नूतन राजधानी अंचल की टीम ने जैसे ही दलबल के साथ आइएमए हॉल से बाकरगंज नाले और सड़क किनारे अतिक्रमण हटाना शुरू किया, स्थानीय लोग विरोध करने लगे। जब टीम ने जेसीबी से अतिक्रमण हटाना शुरू किया तो स्थानीय लोगों ने पथराव आरंभ कर दिया। साथ गई पुलिस भी मूकदर्शक बनी रह गई। अतिक्रमणकारियों के सामने पुलिस बल की संख्या काफी कम थी। महज नौ पुलिस कर्मी मौजूद थे। जबकि नगर निगम नूतन राजधानी अंचल की ओर से 50 की संख्या में पुलिस बल की मांग की गई थी। इसके पूर्व भी पुलिस बल नहीं मिलने के कारण बांकीपुर अंचल के नगर प्रबंधक को मांस दुकानदारों ने मार-पीटकर जख्मी कर दिया था।

---------

: आइजी ने एसएसपी व एसपी के साथ की बैठक :

शहर को अतिक्रमणमुक्त बनाने के लिए बुधवार दोपहर आइजी नैय्यर हसनैन खान ने एसएसपी, सिटी एसपी और डीएसपी के साथ बैठक की। एसएसपी ने अतिक्रमण मामले में थाना पुलिस की मिलीभगत की जांच का जिम्मा सिटी एसपी (मध्य) को सौंपा है। आइजी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि शहर के प्रमुख चौराहों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और प्रमुख स्थलों को किसी भी हाल में अतिक्रमणमुक्त किया जाए। सभी डीएसपी को अपने-अपने क्षेत्र में कार्रवाई कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है।

--------

: सड़क पर खड़ी होगी बस तो परमिट होगा रद :

बुधवार को जक्कनपुर थाने की पुलिस मीठापुर बस स्टैंड और अवैध ढंग से सड़क किनारे बने ऑटो स्टैंड पर पहुंची। पुलिस ने पहले दिन बस चालकों को कड़ी हिदायत देते हुए स्टैंड के अंदर बसें खड़ा करने की चेतावनी दी। दूसरी तरफ टै्रफिक एसपी पीके दास भी निर्देश जारी कर चुके हैं कि अगर सवारी उठाने के लिए बस को बीच सड़क पर खड़ा किया गया या फिर अवैध ढंग से पार्किंग की गई तो संबंधित बस का परमिट रद कर दिया जाएगा। पुलिस की चेतावनी के बाद बुधवार को मीठापुर बस स्टैंड के आसपास जाम नहीं रहा।

----------

: अभियान में नगर निगम के साथ खड़ी रहेगी पुलिस :

ऐसा संभव नहीं कि नगर निगम फोर्स की मांग करे और बल नहीं मिले। रणनीति बनाकर अतिक्रमण हटाओ अभियान चलेगा। नगर निगम जहां भी अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करे उसकी सूचना दे, जितने बल की मांग होगी उतने पुलिसकर्मी उपलब्ध कराये जायेंगे। किसी भी सूरत में शहर में अतिक्रमण नहीं होने दिया जाएगा। बुधवार को अतिक्रमण हटाने के दौरान चूक कैसे हुई इसकी जांच की जा रही है।

- एसएसपी मनु महाराज

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस