छठ को लेकर डीएम ने दिया निर्देश, दलदल वाले घाट होंगे दुरुस्त

DM gives instructions regarding Chhath, mooring ghats will be better

पटना। छठ महापर्व को लेकर डीएम कुमार रवि और एसएसपी गरिमा मलिक ने गंगा पाटीपुल घाट का निरीक्षण किया। जनार्दन घाट पर जहां छह फीट बालू आ गया है वहीं शिवाजी घाट से लेकर जेपी सेतु तक घाटों की स्थिति बेहतर है। डीएम ने अधिकारियों के साथ जेपी सेतु से संत माइकल हाईस्कूल घाट का जायजा लिया। कहीं-कहीं घाटों की खराब स्थिति को देखकर अधिकारियों को ठीक करने का निर्देश दिया। कई जगहों पर घाट तो निकल आए हैं लेकिन वहां तक पहुंचनेवाला रास्ता काफी खराब है। दलदल, रास्ते में जमा पानी व खराब सड़क आदि को ठीक करने का निर्देश दिया गया। दीघा 93 घाट का प्रवेश द्वार होगा चौड़ा डीएम ने निरीक्षण के दौरान दीघा 93 घाट के प्रवेश द्वार को चौड़ा करने का निर्देश दिया। प्रवेश द्वार तोड़कर चौड़ा करने और वहां बिजली के पोल को हटाने को कहा। 93 से प्रवेश दिया जाए और 92 से वाहनों के बाहर निकलने की व्यवस्था की जाए। संत माइकल स्कूल के पास 83 घाट पर रास्ता बनाने के बाद व्रती घाट तक पहुंच पाएंगे। गेट 83 से 97 के बीच के घाटों को व्रत करने लायक बनाया जाएगा। चार दिनों में घटेगा एक मीटर पानी जल संसाधन विभाग के अभियंता ने जिलाधिकारी को बताया कि चार दिनों में एक मीटर पानी घटेगा। उसके बाद घाटों की स्थिति साफ हो पाएगी। 22 अक्टूबर से 24 घंटे होंगे काम जिलाधिकारी कुमार रवि ने कहा कि 22 अक्टूबर से 24 घंटे कार्य होंगे। घाटों को दुरुस्त कर लिया जाएगा। जलस्तर घटने से घाटों पर दलदल की स्थिति बन गई है। उसे सूखा करने की चुनौती होगी। निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी के साथ वरीय पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक, नगर आयुक्त अमित कुमार पांडेय, पुलिस अधीक्षक यातायात डी. अमरकेश, उप विकास आयुक्त सुहर्ष भगत, जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता लक्ष्मण झा, एसडीएम कुमारी अनुपम सहित सभी घाटों पर नोडल पदाधिकारी मौजूद थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप