पटना [वेब डेस्क ] । लगभग 22 महीने पहले जिस छात्रा पर छेड़खानी के विरोध में तेजाब फेंका गया था, आज उसने करंट लगाकर खुदकुशी कर ली। तेजाब कांड के बाद से छात्रा डिप्रेशन में रह रही थी। रविवार को तेजाब कांड के बाद डिप्रेशन में जी रही छात्रा ने दुनिया को अलविदा कह दिया।

बिजली का खुला तार पकड़कर की खुदकुशी

18 वर्षीया मधु कुमारी वैशाली जिले के सराय थाना क्षेत्र के अनवरपुर गांव निवासी चिना साह की पुत्री थी।

जानकारी के अनुसार रविवार को सुबह से मधु काफी परेशान थी। उसे घर में इधर से उधर चहलकदमी करते देख परिजनों ने पूछा भी लेकिन वह टाल गई। उसे घर के अंदर काफी देर तक रहने और किवाड़ बंद पाकर परिजनों को किसी अनहोनी की आशंका हुई। जब किवाड़ तोडा गया तो घर के अंदर जमीन पर उसकी लाश पड़ी थी। बिजली का एक खुला हुआ तार उसने अपने हाथ से पकड़ रखा था।

छेड़खानी के विरोध पर तीन युवकों ने फेंका था तेजाब

24 सितम्बर 2014 को तीन मनचलों ने छात्रा को रास्ते में पकड़कर पहले उसके साथ छेड़खानी करने का प्रयास किया था। जब छात्रा विरोध करते हुए शोर मचाने लगी तो लफंगों ने उसके शरीर पर तेजाब फेंक मधु की सूरत बिगाड़ दी थी। लंबे समय तक उसका पटना में इलाज हुआ था। उस घटना के बाद से ही मधु अपने घर से बाहर नहीं निकलती थी।

वह एक कोठरी के अंदर रहती थी। परिजनों और रिश्तेदारो के प्रयास के बावजूद भी मधु घटना के बाद कभी घर से बाहर नहीं निकली थी। आज जब निकली तो उसकी लाश थी। सराय के थानाध्यक्ष शहनवाज खां ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस शव को अपने कब्जे में ले लिया है। परिजनों का बयान लिया जा रहा है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।

Posted By: Pramod Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस