पटना [जेएनएन]। बिहार के पटना जिले के फुलवारीशरीफ के संपतचक के बैरिया स्थित एक झोला छाप डॉक्टर द्वारा संचालित हॉस्पिटल में दांत निकलवाने पहुंची महिला की मौत इलाज के दौरान हो गई। महिला की मौत के बाद डॉक्टर शव को बेड पर ही छोड़कर फरार हो गया।

मौत के बाद परिजनों ने हंगामा करते हुए नर्सिंग होम में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मामले को शांत कराया। थानेदार राजेश कुमार ने बताया कि झोला छाप डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

जानकारी के अनुसार, दरभंगा निवासी प्रमोद राय की पत्नी संगीता देवी अपने मायके गर्दनीबाग के सरिस्ता बाद अपने पिता नगीना राय के घर आई हुई थी। तीन दिन पहले वह अपने अब्दुल्लाचक निवासी मामा लाला राय के घर आई थी। दांत में तेज दर्द की शिकायत पर वह बैरिया स्थित डॉ. ओम गोस्वामी के निजी नर्सिंग होम में पहुंची। डॉक्टर की सलाह पर एक दांत निकलवाने पर संगीता देवी राजी हो गई।

फिर डॉक्टर ने चार दांत निकालने की बात कही। दर्द से कराह रही मरीज से बेपरवाह डॉक्टर छेनी और हथौड़ी से दांत निकालने में जुटे रहे। आखिरकार दांत निकलवाने के दौरान बेड पर ही संगीता ने दम तोड़ दिया। मरीज की मौत होते ही शव को बेड पर छोड़कर डॉ. ओम गोस्वामी फरार हो गए।

Posted By: Ravi Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप