पटना [जेएनएन]। बिहार की राजधानी पिछले कुछ दिनों से महिला असुरक्षा से जुड़ी खबरों के कारण सुर्खियों में है। पांच साल की बच्ची के साथ छेड़छाड़ के बाद बीएन कॉलेज की छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म से लोगों में व्याप्त आक्रोश अभी थम नहीं पाया था कि एक और मामला सामने आ गया है। पटना के पीरबहोर थाना क्षेत्र की रहने वाली एक युवती ने स्‍थानीय सेंट जेवियर हाईस्कूल में जूनियर सेक्शन के शिक्षक जॉन पॉल पर छेड़छाड़ और धमकी देने का आरोप लगाया है।

महिला थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी

इस संबंध में युवती ने महिला ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। महिला थानाध्यक्ष आरती जायसवाल ने बताया कि युवती की लिखित शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन की जा रही है। इधर, संत जेवियर हाईस्कूल के प्राचार्य फादर कृष्टि से संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की।

छात्रा का आरोप 2007 से गंदी थी नजर

युवती के मुताबिक, वह 2007 में संत जेवियर हाईस्कूल की छात्रा थी। तब से शिक्षक जॉन पॉल की नजर उसपर थी। वह खुद को उसके पिता तुल्य बताते थे, लेकिन अश्लील बातें करने के साथ उसे छूने का प्रयास करते थे। इसर उसने कई बार आपत्ति भी जताई थी।

हाथ पकड़ अपनी ओर खींचा फिर दबा लिया मुंह

नौ दिसंबर को फुलवारीशरीफ के मदर इंटरनेशनल स्कूल में वह सीटीईटी की परीक्षा देने गई थी। वहां जॉन पॉल परीक्षा निरीक्षक थे। आरोप है कि शिक्षक ने उसका हाथ पकड़ लिया और जबरन उसे अपनी ओर खींचने लगे। इसके बाद उसका मुंह दबा दिया।

लगाती रही गांधी मैदान थाने का चक्कर, नहीं दर्ज हुई एफआइआर

युवती की मानें तो घटना के बाद गांधी मैदान थाने के चक्कर लगाती रही। उसने कई बार कोशिश की पर निराशा ही हाथ लगी। अंत में थक हार के पीड़ित ने वह महिला थाने पहुंची। जहां उसने सेंट जेवियर हाईस्कूल में जूनियर सेक्शन के शिक्षक के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस