जागरण संवाददाता, पटना: यास तूफान ने जाते-जाते प्रदेश के वातावरण में आर्द्रता बढ़ा दी है। इसके चलते प्रदेश के वातावरण में औसतन 86-90 फीसद तक नमी है, जबकि जून में सामान्य तौर पर यह 40 फीसद के आसपास रहती है। वहीं, 24 घंटे में मानसून के केरल तट पहुंचने की संभावना है। इसके चलते मेघ गर्जन के साथ हल्की बारिश की स्थितियां बन रही हैं।

बुधवार को सुबह से ही चटक धूप खिली। इसका सीधा असर तापमान पर दिखाई दिया। मौसम विज्ञान पटना से प्राप्त जानकारी के अनुसार, बीते 24 घंटों में दक्षिण मध्य, दक्षिण पश्चिम और उत्तर मध्य, उत्तर-पूर्व, उत्तर-पश्चिम, दक्षिण पूर्व भागों में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई। डेहरी का अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस व राजधानी का अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार, चक्रवाती परिसंचरण दक्षिण छत्तीसगढ़ एवं उसके आसपास इलाके में समुद्र तल से 0.9 किमी पर स्थित है व ट्रफ रेखा 0.9 किमी पर ही छत्तीसगढ़ से बिहार-झारखंड होते हुए हिमालय से गुजरते हुए बंगाल तक आएगी। इसके प्रभाव से अगले 24 घंटों में राज्य में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश एवं मेघ गर्जन की संभावना बनी है। इसके बाद अधिकांश स्थानों पर मौसम शुष्क बना रहेगा। वहीं, अगले 24 घंटे में केरल के तट पर मानसून पहुंच जाएगा। वहां वायुमंडल के निचले स्तर पर पश्चिमी हवा मजबूत हो गई है जिसके कारण बारिश होने की संभावना है। 

राज्यों के कुछ जिलों के  लिए येलो अलर्ट जारी  


मौसम विज्ञान केंद्र पटना की ओर से राज्य के कुछ जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम बिहार में एक या दो स्थानों पर मेघ गर्जन एवं वज्रपात की आशंका है। वहीं, कुछ जगहों पर गरज के साथ वर्षा होने की संभावना है। इन जगहों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, उत्तर पूर्व बिहार, दक्षिण मध्य बिहार आदि जगहों पर मेघ गर्जन, बिजली चमकने व तेज बारिश के आसार बना है।  

इन जगहों पर हुई बारिश 


मौसम विज्ञान से प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार को राज्य के रजौली, जोकीहाट में 6.0 मिमी, सिवान, कुदरा कोइलवर, बिहपुर, दिनारा, रूपौली में 4.0 मिमी, समस्तीपुर, अरवल, साहेबगंज में 3.0 मिमी बारिश हुई। 

Edited By: Akshay Pandey