पटना बिक्रम। बेखौफ बदमाशों ने बाजार के दो दुकानदारों से फोनकर 15-15 हजार रुपये रंगदारी की मांग की। बदमाशों ने दुकानदारों को रुपये नहीं देने पर गोली मारकर हत्या करने की धमकी दी। प्रखंड मुख्यालय के ठीक सामने फोटो स्टेट के दुकान के कर्मी दीपक श्रीवास्तव ने मामला दर्ज कराया है।

जानकारी के अनुसार, दुकान के कर्मी दीपक ने बताया कि वह रविवार की सुबह दुकान पर था। इसी दौरान एक अनजान नंबर से कॉल आया। बदमाशों ने फोन कर तत्काल 15 हजार रुपये रंगदारी देने को कहा। बदमाश 000 रुपये की माग की गई। फोन करने वाले बदमाश दुकान के मालिक रमेश पंडित और बगल के दुकानदार राजेश कुमार का नंबर मागा। बदमाशों ने रंगदारी नहीं देने पर गोली मारने की धमकी दी।

थानाध्यक्ष चंदन कुमार ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है। बदमाशों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

बिक्रम में एक माह में बेखौफ अपराधियों ने कई घटनाओं को अंजाम दिया है। क्षेत्र के आधा दर्जन दुकानदारों से बदमाशों ने रंगदारी मागी। बाजार में दहशत पैदा करने के लिए दो बार अपराधियों ने दिनदहाड़े फायरिंग की। कुछ दिनों पहले 10 हजार रुपये रंगदारी नहीं देने पर व्यवसायी संतोष की गोली मारकर हत्या कर दी। इस मामले में बाप जी गैंग के सरगना गोलू एवं उसके तीन साथियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। इस घटना के कुछ दिन बाद एक कोचिंग संचालक से रंगदारी मामले में दो युवकों को गिरफ्तार किया गया। नगर पंचायत कर्मी सत्येंद्र से रंगदारी मागने के आरोप में पुलिस ने पटना से एक अपराधी राजन केशरी को गिरफ्तार किया। सात दिनों पूर्व रईस अंसारी नामक कपड़ा व्यवसायी से डेढ़ लाख रुपये रंगदारी की माग की गई। इस मामले में पुलिस ने दो अपराधियों सहित तीन अन्य को गिरफ्तार किया है। इनका संबंध महाकाल गैंग से बताया जाता है।

Posted By: Jagran