पटना [जागरण टीम ]। राजधानी पटना में बाइकर्सगैंग मंगलवार की रात फिर आपस में भिड़े। एक ग्रुप ने दूसरे ग्रुप के एक सदस्य को जमकर पीटा, अपहरण की कोशिश की। इस दौरान पुलिस पहुंची तो कब्जे में लिए युवक को उसी की कार में बिठाकर वे रेलवे ट्रैक पर ही कार को भगाने लगे। यह घटना एसके पुरी थाने से महज कुछ दूरी पर हुई। रेल लाइन पर कार दौड़ते देख लोगों ने खदेड़ना शुरू किया तो वे कार छोड़कर भाग निकले।
मिली जानकारी के मुताबिक किंग्स ऑफ पटना गैंग के सदस्यों ने दूसरे बाइकर्स गैंग के सदस्य सुलेमान की बीच सड़क पर पिटाई शुरू कर दी। जब लोग जुटे तो वे सुलेमान को अपने साथ ले जाने लगे। इसी बीच पुलिस के घटनास्थल पर पहुंचने के कारण वे सुलेमान को उसकी ही गाड़ी में बैठाकर उसकी स्विफ्ट कार को रेलवे ट्रैक पर ही दौड़ाने लगे। पुलिस और स्थानीय लोगों ने अपराधियों का पीछ किया। इसी बीच गाड़ी रेलवे ट्रैक पर फंस गई।
पढ़ेंः बीवी ने दी सलाह नेक बनो, शौहर ने दो बच्चों संग पत्नी को जिंदा जलाया
इसके बाद सभी अपराधी सुलेमान को छोड़कर फरार हो गए। सुलेमान ने पुलिस को बताया कि कुल चार लोग उसे पीट रहे थे। उसने खुद के अपहरण की बात भी कही।

बाइकर्सगैंग का नाम आया सामने
पुलिस सूत्रों की मानें तो यह रूमर्स और किंग्स ऑफ पटना के सदस्यों के बीच आपसी वर्चस्व की लड़ाई थी। सुलेमान और उसका भाई इमरान रुमर्स गिरोह का सदस्य बताया जाता है। हालांकि अभी सुलेमान ने पुलिस को कुछ नहीं बताया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।
घटना में रूमर्स के कौन-कौन सदस्य था अभी इसका पता नहीं चल सका है। थानाध्यक्ष ने कहा कि यह आपसी वर्चस्व का नतीजा है। अभी पूछताछ चल रही है। किंग्स ऑफ पटना के सदस्यों को गिरफ्तार किया जाएगा।

Posted By: Pramod Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस