श्रवण कुमार, पटना। तीसरे चरण में बिहार के पांच संसदीय क्षेत्रों में होने वाले चुनाव में सभी प्रमुख दलीय प्रत्याशी पर दाग लगे हैं। राजद, जदयू, भाजपा , कांग्रेस , लोजपा, जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक या वीआईपी इन सभी पार्टियों के प्रत्याशियों पर मुकदमे दर्ज हैं। कुल मिलाकर तीसरे चरण में चुनाव लड़ रहे 82 में से 29 प्रत्याशियों पर किसी न किसी प्रकार के आपराधिक मामले दर्ज हैं।

इनमें से 25 पर गंभीर आपराधिक मामले हैं। अर्थात 35 प्रतिशत प्रत्याशी दागदार हैं। 30 फीसद पर गंभीर मामले हैं। ये आंकड़े प्रत्याशियों द्वारा नामांकन के वक्त दिए गए शपथ-पत्रों का विश्लेषण कर बिहार इलेक्शन वाच एवं एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्मस (एडीआर) ने जारी किए हैं।

मधेपुरा में आपराधिक छवि के सबसे कम प्रत्याशी

तीसरे चरण में बिहार के अररिया, झंझारपुर, खगडिय़ा, मधेपुरा और सुपौल संसदीय क्षेत्र में मतदान होना है। मधेपुरा में आपराधिक छवि के सबसे कम प्रत्याशी मैदान में हैं। यहां से चुनाव लड़ रहे जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के उम्मीदवार राजेश रंजन ऊर्फ पप्पू यादव पर 31 मुकदमे दर्ज हैं। यहां के प्रत्याशी राजद के शरद यादव पर तीन और जदयू के दिनेशचंद यादव पर एक मामला दर्ज है। खगडिय़ा संसदीय क्षेत्र के पांच प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले हैं।

यहां से मैदान में कूदे लोजपा के चौधरी महबूब अली कैसर पर एक और महागठबंधन की ओर से वीआईपी पार्टी के मुकेश सहनी पर चार मुकदमे हैं। यहां के निर्दलीय प्रत्याशी नागेंद्र सिंह त्यागी पर सर्वाधिक सात मामले दर्ज हैं। इसके अतिरिक्त निर्दलीय परमानंद सिंह पर तीन और आदर्श मिथिला पार्टी के उमेश चंद भारती पर एक मुकदमा है।

अररिया, झंझारपुर और सुपौल संसदीय क्षेत्र से चुनावी समर में भाग्य आजमा रहे सात-सात प्रत्याशियों का रिकार्ड आपराधिक है। अररिया में राजद के सरफराज आलम पर छह और भाजपा के प्रदीप कुमार सिंह पर तीन मामले दर्ज हैं। निर्दलीय शाहीन परवीन, अब्दुल बाहिर, मो. मतीन पर भी एक-एक मुकदमे हैं। यहां बहुजन मुक्ति पार्टी के ताराचंद पासवान और बिहार लोक निर्माण दल के सुदामा सिंह पर भी दो-दो मुकदमे दर्ज हैं। झंझारपुर के राजद प्रत्याशी गुलाब यादव पर दो और जदयू प्रत्याशी रामप्रीत मंडल पर एक मामला दर्ज है। निर्दलीय प्रत्याशी ओम प्रकाश पोद्दार पर तीन, गणपति झा पर दो और बब्लू गुप्ता पर एक मुकदमे हैं।

रंजीता रंजन पर दर्ज हैं पांच मुकदमे

पीपुल्स पार्टी ऑफ इंडिया के गंगा प्रसाद यादव और एसएचएस पार्टी के रामानंद ठाकुर पर भी एक-एक मुकदमे हैं। सुपौल लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रही कांग्रेस प्रत्याशी रंजीता रंजन पर पांच और जदयू प्रत्याशी दिलेश्वर कमैत पर दो मुकदमे दर्ज हैं। इसके अतिरिक्त राष्ट्रवादी जनता पार्टी के कृष्णदेव मंडल, हिंद साम्राज्य पार्टी के आनंद पाठक, जन अधिकार पार्टी के सत्यनारायण मेहता पर एक-एक मामले दर्ज हैं। निर्दलीय दिनेश प्रसाद यादव और वंचित समाज पार्टी के प्रमोद कुमार निराला पर तीन-तीन मुकदमे हैं।

Posted By: Akshay Pandey