पटना, जेएनएन। CoronaVirus: बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यहां दो दिनों में तीन नए मामले मिलने से हड़कम्‍प मच गया है। इसके पहले रविवार को एक ही दिन तीन मरीजों के मिलने और उनमें से एक की मौत के साथ कोराना ने बिहार में दस्‍तक दी थी। राज्‍य में अब तक कोरोना संक्रमण के आाधा दर्जन मामले सामने आ चुके हैं।

मुंगेर की महिला व बच्‍चा की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव

पटना के राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इस्‍टीच्‍यूट (RMRI) के निदेशक डॉ. प्रदीप दास ने देर शाम बताया कि मुंगेर के रहने वाले दो लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। उनमें एक बच्चा और एक महिला शामिल है। दोनों शनिवार को मृत मुंगेर के कोरोना पॉजिटिव युवक के परिवार से हैं। उक्‍त युवक की मौत पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (AIIMS) में इलाज के दौरान हो गई थी।

पटना के युवक की रिपार्ट से उठे सवाल

इसके एक दिन पहले मंगलवार को पटना के संक्रामक रोग अस्पताल (IDH) में भर्ती तथा गुजरात से लौटा पटना सिटी का एक युवक कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मिला था। चिंताजनक बात यह है कि बिहार में कोरोना की जांच के एकमात्र अधिकृत संस्‍थान आरएमआरआइ की जांच में युवक की रिपोर्ट पहले निगेटिव आई थी। लेकिन बाद में बीमारी के लक्षणों को देखकर जांच के लिए जब सैंपल पुणे स्थित नेशनल वायरोलॉजी लैब (National Virology Lab) भेजा गया, जब मंगलवार की देर शाम वहां की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। ऐसे में यह सवाल खड़ा हो गया है कि क्‍या आरएमआरआइ की अन्‍य किसी जांच रिपोर्ट में गलती नहीं हुई है?

मौत के बाद मिली युवक की जांच रिपार्ट

बीते रविवार को पटना एम्‍स में मृत मुंगेर का युवक कतर से लौटा था। पटना एम्‍स के निदेशक डॉ. प्रभात कुमार सिंह के अनुसार उसकी मौत शनिवार को दिन में हुई, जबकि उसके कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट शनिवार रात आई। एम्‍स प्रशासन ने जांच सैंपल भेजने में विलंब से इन्‍कार किया, उसके अनुसार रिपोर्ट आने में विलंब हुआ।

फिलहाल इन मरीजों का चल रहा इलाज

फिलहाल, बिहार के तीन कोरोना पॉजिटिव मरीजों में शामिल गुजरात से लौटा पटना सिटी का युवक आइडीएच में भर्ती है। आइडीएच में पहले से ही भर्ती स्कॉटलैंड से लौटे फुलवारीशरीफ निवासी कोरोना संक्रमित छात्र की तबीयत में सुधार हो रहा है। उधर, एम्‍स में भी एक मरीज का इलाज चल रहा है। बुधवार को जिन दो लोगों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव पाए गए, वे मुंगेर के कोरोना संक्रमित मृतक के स्‍वजन होने के कारण आइसोलेशन में हैं। अब उनका इलाज आरंभ होगा। कोरोना पॉजिटिव मुंगेर की महिला और बच्‍चे के सैंपल वहीं से आए थे। उन्‍हें वहां 39 लोगों के साथ आइसोलेशन में रखा गया है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस