पटना, जेएनएन। बिहार की राजधानी पटना में बुधवार को कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ मरीज मिले हैं। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग ने एक साथ दो दिनों की कोरोना जांच रिपोर्ट जारी की। इसमें 21 जुलाई को 174 तो 20 को 278 नए संक्रमित मिले। इस तरह से एक दिन में कोरोना के कुल मामले 452 हुए। कोरोना से राजद नेता राजकिशोर प्रसाद की मौत हो गई। राजकिशोर दानापुर विधानसभा क्षेत्र से राजद की तरफ से चुनाव लड़े चुके थे। संक्रमित होने पर उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था, बुधवार को उन्होंने दम तोड़ दिया। वहीं बिहार में एक साथ 1502 संक्रमित मिले। राज्य में कोरोना के कुल मामले 30066 हो गए हैं। पटना में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4479 हो गया है। पटना कोरोना पॉजिटिव मिलने के मामले में टॉप पर बना हुआ है। इनमें से 2590 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं जबकि 1856 लोगों को इलाज चल रहा है। कोरोना से पटना में अबतक 33 अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है। 

 

स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना जांच हुआ आसान

एक शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गुलजारबाग, भद्रघाट के समीप अशोक राजपथ किनारे स्थित गुलजारबाग पोस्ट ऑफिस के सामने स्थित है शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गुलजारबाग। यहां बुधवार को भी एंटीजन टेस्ट से 18 आशंकितों की कोरोना जांच हुई। चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. एच के कश्यप ने बताया कि दो की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने पर इन्हें होम क्वारंटाइन का सुझाव दिया गया। दोपहर तक आए मरीजों की डॉक्टरों ने पहले जांच की। जिनमें कोरोना के लक्षण पाए गए उनका सैंपल लिया गया। आधे घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट दी गयी । इस केंद्र पर बेहद आसानी से लोगों की जांच होती रही। डॉक्टर कुछ दूरी से आशंकितों से बातचीत कर उनसे लक्षण पूछते रहे। बुखार, सिर में दर्द, खांसी, सांस लेने में परेशानी तथा कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने वालों की सैंपलिंग की गई।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021