पटना,जेएनएन। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन है, जिसकी वजह से जो जहां है वहीं रहने को मजबूर है। इससे गरीब ओर मजदूर वर्ग के लोगो को खासी दिक्कतें आ रही हैं। इसे लेकर जदयू के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया था। जिसके बाद आज नीतीश कुमार ने कोरोना फंड में 100 करोड़ की राशि दी है, ताकि उन लोगों की सहायता की जा सके।

मुख्यमंत्री के इस कदम की प्रशांत किशोर ने सराहना की है और आज ट्वीट कर उन्हें धन्यवाद दिया है। प्रशांत किशोर ने अपने ट्वीट में लिखा है कि तमाम सार्वजनिक आक्रोश के बाद, बिहार सरकार ने पूरे भारत में फंसे दैनिक वेतन भोगी और गरीब लोगों की मदद के लिए राहत पैकेज की घोषणा की है।

इसमें CM राहत कोष से 100Cr का अतिरिक्त फंड शामिल है। अपनी आवाज़ को उठाने के लिए आप सभी का धन्यवाद। @नीतीशकुमार जी को भी धन्यवाद

बता दें कि ट्वीट करते हुए बुधवार दोपहर को प्रशांत किशोर ने लिखा, 'दिल्ली और अन्य कई जगहों पर बिहार के सैकड़ों गरीब लोग लॉकडाउन की वजह से फंसे हुए हैं। नीतीश कुमार जी, जब दुनिया भर की सरकारें अपने लोगों की मदद कर रही हैं, बिहार सरकार इनलोगों को इनके घरों तक पहुंचाने अथवा जहां ये लोग हैं, वहीं कुछ फौरी राहत की व्यवस्था क्यों नहीं कर रही है?' कुछ देर बाद इसी ट्वीट को कोट करते हुए प्रशांत किशोर ने हैशटैग के साथ शेम ऑन नीतीश कुमार भी लिखा था।

 इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी द्वारा पूरे देश में किए गए लॉकडाउन पर भी उन्होंने सवाल उठाया था। बुधवार सुबह किए गए एक ट्वीट में प्रशांत किशोर ने लिखा था कि 21 दिन का लॉकडाउन थोड़ा ज्यादा हो गया है। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में बेहतर तैयारी नहीं करने का यह नतीजा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस