पटना, जेएनएन। कोरोना वायरस (CoronaVirus) से संक्रमण के खतरे को देखते हुए पूरे भारत में 22 मार्च की आधी रात से लॉकडाउन (Lockdown) का आदेश दे दिया गया जिसके बाद रेल सेवा से लेकर हवाई सेवा तक बंद कर दी गई हैं, जिसकी वजह से जो जहां हैं वहीं रहना उनकी मजबूरी बन गई है। बिहार के सैकड़ों लोग दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं और वो अपने घर किसी भी हाल में लौटना चाहते हैं, लेकिन आने का साधन नहीं होने के कारण उन्हें परेशानी हो रही है।

इस समस्या को लेकर बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने केंद्र और राज्य सरकार से इन्हें राहत पहुंचाने की अपील की है और बेहद भावुक ट्वीट किया है।

राबड़ीदेवी के ट्विटर हैंडल से भोजपुरी में किए गए ट्वीट में लिखा गया है कि,  हम केन्द्र और राज्य सरकार से निहोरा कर रहल बानि की भगवान के ख़ातिर जे भी हमार बिहारी भाई, बहिन, बच्चा और गरीब-गुरबा लोग बाहर फँस गईल बा ऊ लोगन के रहे और खाए के इंतज़ाम करीं। ई गरीब-गुरबा के आंसू देख के हमरो आंसू नईखे रुकत।

बता दें कि बिहार सरका ने दिल्ली में फंसे मजदूरों को सहायता के लिए फोन नंबर जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के खतरे को देखते देश में हुए लॉकडाउन के बाद अगर दिल्ली में बिहार के कोई मजदूर मदद चाहते हैं तो वह मोबाइल नंबर 981831252 और 9773711261 पर फोन कर मदद मांग सकते हैं।

बिहार सरकार ने सरकार ने दिल्ली में मौजूद बिहार सरकार के पदाधिकारियों को यह निर्देश दिया है कि वहां फंसे हुए बिहार के मजदूरों को तत्काल राहत पहुंचाई जाए। बता दें कि देश की राजधानी में काम करने वाले तकरीबन 250 से ज्यादा मजदूरों ने श्रम विभाग को फोन कर मदद की गुहार लगाई है।

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस