पटना [एसए शाद]। अगले विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) की तैयारी के मद्देनजर पार्टी संगठन को सुदृढ़ करने एवं इसके व्यापक फैलाव के लिए प्रदेश कांग्रेस (Bihar Congress) अगले सप्ताह से सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) की सुझाई रणनीति पर अमल करेगी। इस रणनीति के तहत प्रदेश में ज्वलंत मुद्दों के संबंध में पार्टी कार्यकर्ताओं को अद्यतन जानकारी से लैस किया जाएगा। इनमें से कुछ मास्टर ट्रेनर की भूमिका भी निभाएंगे, जिसके लिए पार्टी उन्हें प्रशिक्षण के लिए भोपाल भेजेगी।

जनसंपर्क व प्रशिक्षण के सूत्र वाक्य पर बनेगी रणनीति

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल के माध्यम से प्रदेश इकाई को 'जनसंपर्क' (Public Contact) और 'प्रशिक्षण' (Training) के सूत्र वाक्य पर आधारित रणनीति बनाने की कुछ सप्ताह पूर्व हिदायत थी। परन्तु उपचुनाव (By Election) और फिर पार्टी के केंद्र सरकार के खिलाफ पिछले माह चले अभियान के कारण इस पर अमल नहीं हो सका।

20 दिसंबर के बाद शुरू होगा सोनिया फार्मूले पर अमल

दिसंबर माह में पार्टी फिर दिल्ली के रामलीला मैदान (Ramleela maidan) में केंद्र की परेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार की नीतियों के खिलाफ आयोजित रैली में प्रदेश से अच्छी भागीदारी सुनिश्चित करने में लग गई। अब जब शनिवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली का आयोजन हो गया है तो अगला फोकस इस रणनीति पर अमल करने का है। सूत्रों ने बताया कि दो दिनों के अंदर प्रदेश कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता रैली में भाग लेकर वापस पटना लौट आएंगे। 20 दिसंबर के बाद से सोनिया फार्मूले पर अमल की संभावना है।

कार्यकर्ताओं को ज्वलंत मुद्दों पर किया जाएगा अपडेट

वेणुगोपाल के माध्यम से जो निर्देश प्रदेश इकाई को प्राप्त हुआ है, उसके तहत कार्यकर्ताओं को ज्वलंत मुद्दों पर अपडेट जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। कुछ वरिष्ठ नेताओं को प्रशिक्षण के लिए भोपाल भी भेजा जाएगा जो वापस आकर मास्टर ट्रेनर की भूमिका निभाएंगे और अन्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करेंगे। आर्थिक मंदी पर विशेष फोकस रहेगा। इसके कारणों और इसके प्रभाव से कार्यकर्ताओं को विस्तार से अवगत कराया जाएगा, ताकि वह जनसंपर्क के दौरान लोगों को प्रभावी ढंग से आर्थिक मंदी के संबंध में जानकारी दे सकें।

पार्टी की नीतियों व उपलब्धियों की दी जाएगी जानकारी

जनसंपर्क अभियान के दौरान लोगों को कांग्रेस की नीतियों, उपलब्धियों और राष्ट्र निर्माण एवं विकास में योगदान की विस्तार से जानकारी दी जाएगी। इस दौरान पुराने कांग्रेसियों को फिर से सक्रिय करने की कवायद भी चलेगी। उन्हें पार्टी के अंदर कुछ न कुछ जिम्मेदारी देने पर विचार चल रहा है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस