राज्य ब्यूरो, पटना। बेरोजगारी, महंगाई और देश की सीमाओं की असुरक्षा को बढ़ाने वाली केंद्र की मोदी सरकार के नाकामियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए कांग्रेस का हाथ से हाथ जोड़ो अभियान 26 जनवरी से प्रारंभ होगा। इस अभियान के जरिये कांग्रेस 10 लाख बूथों तक पहुंचेगी। उक्त बातें कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और महाराष्ट्र कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष चरण सिंह सापरा ने बुधवार को सदाकत आश्रम में प्रेस वार्ता के दौरान कहीं।

सापरा ने केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों की जमकर आलोचना की। कहा कि चीन देश के मैप को बदल रहा है और नरेंद्र मोदी चीनी एप के बहिष्कार में देश को उलझाए हुए हैं। युवाओं को बेरोजगारी के दंश में ढकेला जा रहा है। आज देश की कुल संपत्ति का सबसे बड़ा हिस्सा केवल तीन अमीरों के पास है।

सापरा ने गैस-डीजल-पेट्रोल की कीमतों को लेकर कहा कि आम जनता को आर्थिक रूप से कमजोर किया जा रहा है। यहां तक कि देश में कृषि कार्य महंगे हो रहे, गृहणियां घर तक नहीं संभाल पा रहीं। आम आदमी भाजपा से त्रस्त हो चुका है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व राज्यसभा सदस्य डा. अखिलेश प्रसाद सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में प्रादेशिक भारत जोड़ो यात्रा में सहयोग करने के लिए पार्टी के सभी नेताओं-कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया। डा. सिंह ने कहा कि चौसा पावर प्लांट हिंसा पर किसानों के मुआवजे के लिए बनी कमेटी की रिपोर्ट मिलते ही कांग्रेस मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर उनका हक दिलाएगी।

राजनीतिक बयानबाजी पर उन्होंने कहा कि महागठबंधन मजबूती से एकजुट है और हम बिहार में भाजपा को उखाड़ फेंकेंगे। इस दौरान चरण सिंह सापरा, अखिलेश सिंह, राजेश राठौड़, राज कुमार राजन, डा. चंद्रिका यादव ने हाथ से हाथ जोड़ो अभियान का भ्रष्ट जुमला पार्टी शीर्षक से पोस्टर भी जारी किया।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के प्रेम, सद्भाव का संदेश जन-जन तक पहुंचाने के लिए 27 जनवरी को आश्रम में सभी नेताओं, डेलीगेट्स, जिलाध्यक्षों व संयोजकों के साथ बैठक करेंगे। प्रेस कांफ्रेंस में आनंद शंकर, बंटी चौधरी, ब्रजेश प्रसाद मुनन, कुंतल कृष्णन, ज्ञान रंजन, सौरभ सिन्हा समेत वरिष्ठ नेतागण उपस्थित रहे।

Edited By: Yogesh Sahu

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट