मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना [राज्य ब्यूरो]। राजधानी वाटिका (इको पार्क) में ‘बिहार वृक्ष रक्षा दिवस’ पर पेड़ों को रक्षा सूत्र बांध कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने वृक्षों व पर्यावरण की रक्षा का संकल्प दुहराया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वृक्षों की रक्षा करने की अपील की। खास बात यह रही कि  मुख्‍यमंत्री ने जिस वृक्ष को रक्षा सूत बांधा, उसे खुद ही 2012 में लगाया था। छह वर्षों के दौरान वह पौधा वृक्ष बन गया।

रविवार को मुख्यमंत्री ने इसी पाटलि के वृक्ष को रक्षा सूत से लपेटा। इसके बाद एक हैंड माइक मंगाया और लोगों से अपील की-प्लीज, जाईए और जाकर वृक्षों में रक्षा सूत बांधिए। उनकी रक्षा का संकल्प लीजिए।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने राजधानी वाटिका में स्टियरकुलिया का एक पौधा भी लगाया। स्टियरकुलिया बेली रोड में बड़ी संख्या में मिलता है। इस मौके पर काफी संख्या में स्कूली बच्चे भी मौजूद थे। सभी ने वृक्षों को राखी बांधी। स्कूली बच्चों को एक-एक पौधा भी दिया गया। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बच्चों से यह अपील की कि आप अपने घर जाकर पौधे को लगाएं और तीन वर्षों तक उसकी सेवा करें।

वर्ष 2012 में मुख्यमंत्री ने ही रक्षाबंधन के दिन वृक्षों को रक्षा सूत बांधकर उनकी रक्षा का संकल्प लेने की परंपरा शुरू की थी। मौके पर उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, विधायक श्याम रजक, अरुण सिन्हा, खाद्य आयोग के नंदकिशोर कुशवाहा व जदयू नेता अरविंद कुमार सिंंह उर्फ छोटू सिंह आदि मौजूद थे।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप