पटना [राज्य ब्यूरो]। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को कृषि जागरूकता महाअभियान रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री सचिवालय के समीप से  सभी जिलों के लिए कुल 76 जागरूकता रथों को रवाना गया है। इन रथों के माध्यम से किसानों को रबी मौसम के लिए कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। वहीं पटना प्रमंडल के लिए एलईडी युक्त छह विशेष रथों को रवाना किया गया। इन विशेष रथों के माध्यम से किसानों को पुआल नहीं जलाने व फसल अवशेष प्रबंधन के बारे में बताया जाएगा। मौके पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार भी मौजूद थे।

इन रथों के माध्यम से प्रथम चरण में 22 से 31 अक्टूबर तक रबी मौसम में फसलों की उत्पादकता तथा किसानों की आमदनी बढ़ाने को ले प्रशिक्षण तथा प्रखंडस्तरीय प्रशिक्षण सह उपादान वितरण कार्यक्रम का भी आयोजन होगा। प्रखंंडस्तरीय प्रशिक्षण सह उपादान वितरण कार्यक्रम का द्वितीय चरण का आयोजन 11 से 18 नवंबर तक होगा।

कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने बताया कि रबी 2019-20 में 43.75 लाख हेक्टेयर में खाद्यान्न फसलों की खेती से 149.30 लाख मीट्रिक टन उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। रबी मक्का में 5 लाख हेक्टेयर में 42 लाख मीट्रिक टन, गेहूं के लिए 23 लाख हेक्टेयर में 72 लाख मीट्रिक टन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। दलहन के लिए 11.50 लाख हेक्टेयर में खेती के तहत 13.75 लाख मीट्रिक टन उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है।

कार्यक्रम में कृषि विभाग के सचिव एन सरवण कुमार, निदेशक आदेश तितरमारे, विशेष सचिव रवींद्र नाथ राय, उद्यान निदेशक, नंद किशोर व कृषि विभाग के कई अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप