पटना [जेएनएन]। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (PM Modi Government) में मंत्री व भारतीय जनता पार्टी (BJP) के फायरब्रांड नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) पर इशारों में ही तंज कसा। नाम लिए बिना उन्‍हें अधार्मिक बताया तथा कहा कि 'कुछ लोगों' को मीडिया में बने रहने के लिए कुछ भी बोलने की आदत होती है। पटना के गांधी मैदान में आयोजित ईद समारोह में उन्‍होंने कहा- 'मैं सबको जानता हूं, ऐसे लोगों का नाम नहीं लेता।' उधर, गिरिराज के विवादित बयान पर बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह नाराज बताए जा रहे हैं। उपमुख्यमंत्री व बीजेपी नेता सुशील मोदी (Sushil Modi) भी बैकफुट पर दिखे। 

जानिए क्‍या है मामला
विदित हो कि जनता दल यूनाइटेड (JDU) सुप्रीमो व मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार एवं हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) सुप्रीमो जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) लगातर दो दिन एक-दूसरे की इफ्तार पार्टियों में गए। इसके बाद बिहार की सियासत में कयासों का सिलसिला चल पड़ा। इसपर गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर नीतीश कुमार पर तंज कसा। गिरिराज ने ट्वीट किया कि कितनी खूबसूरत तस्वीर होती जब इतनी ही चाहत से नवरात्रि पे फलाहार का आयोजन करते और सुंदर सुदंर फ़ोटो आते। अपने कर्म धर्म मे हम पिछड़ क्यों जाते हैं और दिखावा में आगे रहते हैं। ट्वीट के साथ उन्‍होंने रामविलास पासवान और जीतनराम मांझी की इफ्तार पार्टियों की तस्वीरें पोस्ट की, जिनमें नीतीश कुमार नजर आ रहे हैं। इस पोस्‍ट के बाद बीजेपी सुप्रीमो अमित शाह (Amit Shah) ने भी गिरिराज सिंह को ऐसे विवादित बयानों से बचने की नसीहत दी है।


मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कही ये बात
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के ट्वीट पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि धर्म को बदनाम करने वाले व्यक्ति को हम प्रोत्साहित नहीं करते हैं। सबको मैं जानता हूं। मीडिया में बने रहने के लिए कुछ लोगों को बोलने की आदत है। ऐसे लोगों का नाम नहीं लेता हूं और न ही प्रतिक्रिया देता हूं। किसी भी स्थिति में धार्मिक भावना से खिलवाड़ नहीं होना चाहिए। सीएम ने ये बातें बुधवार की सुबह गांधी मैदान में ईद पर आयोजित मुख्य समारोह में भाग लेने के दौरान कहीं। 

मैं सभी धर्मों को मानता हूं
मुख्यमंत्री ने कहा 'मैं सभी धर्मों को मानता हूं। किसी भी धर्म के लोगों की भावना से खिलवाड़ नहीं करता हूं। एक-दूसरे के प्रति प्रेम रहने से समाज में इज्जत का भाव रहता है। धर्म को बदनाम नहीं करना चाहिए। सभी धर्म के आयोजन में हम भाग लेते हैं। सद्भावना की कामना करता हूं। ईद के अवसर पर सभी को बधाई देता हूं, खासकर मुस्लिम समाज को। देश और राज्य में अमन-चैन, एकता और भाईचारा कायम रहे।' 

अल्‍लाह से की दुअा
मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में सूखे की स्थिति उत्पन्न होने की आशंका है। अल्लाह करे बिहार को सूखे की चपेट में न आना पड़े। समय पर बारिश हो। अगर बिहार सूखे से ग्रसित होता है तो राज्यवासी आपस में मिलकर इससे निपटेंगे। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि वे 2006 से गांधी मैदान में ईद की नमाज में आते रहे हैं। सभी धर्मों को एक समान मानते हैं। उन्‍होंने लोगों को ईद (Eid) की मुबारकबाद भी दी।

गिरिराज के बयान को ले बैकफुट पर दिखे सुशील मोदी
इसकेपहले मंगलवार को उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी गिरीराज के सवाल पर बचने की कोशिश में दिखे। उन्‍होंने कहा, 'मुझे नहीं पता कि गिरिराज सिंह ने क्या ट्वीट किया है, लेकिन मुझे गर्व है कि मैं हिन्दू हूं और मैं अपने घर में इफ्तार भी करता हूं. होली भी मनाता हूं और फलाहार भी करता हूं। साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के घर इफ्तार भी होता है और छठ के खरना का प्रसाद भी बनता है। जो लोग तंज कस रहे हैं वे तो होली मिलन भी नहीं करते हैं।'
जेडीयू ने दी कड़ी प्रतिक्रिया, अमित शाह ने भी दी नसीहत
गिरिरज के बयान पर जेडीयू ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने गिरिराज सिंह को जवाब देते हुए कहा कि वे उन्हें (गिरिराज सिंह को) फोटो भेज रहे हैं, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आबूधाबी में सबसे बड़ी मस्जिद में वहां के शेख जाहिद और इमाम के साथ घूमते और बात करते दिख रहे हैं। पीएम मोदी ने सबका विश्वास जितने का संकल्प लिया है और आबूधाबी की तस्‍वीर उसका प्रतीक है।
गिरिराज के बयान पर बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह भी नाराज बताए जा रहे हैं। उन्‍होंने ऐसे बयानों से बचने की नसीहत दी है। बताया जा रहा है कि अमितशाह ने गिरिराज सिंह से अपने बयान के लिएनीतीश कुमार से माफी मांगने को कहा है। बुधवार को इसी को लेकर मीडिया के सवाल पर मुख्‍यमंत्री ने अपनी प्रतिक्रिया दी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप