नगरा (सारण), संवाद सूत्र। सारण जिले के खैरा - मढ़ौरा मुख्यपथ पर हरेराम टोला गांव के समीप मंगलवार की रात पुलिस ने छत्तीसगढ़ की एक युवती सुमित्रा (25) को रिवाल्वर के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार युवती छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले के नगरनार गांव निवासी सुखदास की पत्‍नी है। वह अपने पिता नाम प्रहलाद बघैल बता रही है।

किसी ने बाइक से उतारा था नगरा के हरेराम टोला में

घटना के संबंध में बताया जाता है कि सुमित्रा छपरा की तरफ से किसी के बाइक से हरेराम टोला गांव के पास उतरी थी। गांव वालों को शक हुआ कि उसके साथ हथियार है। ग्रामीणों  ने उसकी सूचना खैरा थाना पुलिस काे दी। पुलिस महिला सिपाही के साथ वहां पहुंची। तलाशी लेने पर युवती के पास से एक देसी रिवाल्वर एवं दो जिंदा कारतूस के साथ ही  एवं स्मार्ट मोबाइल फोन बरामद हुआ।

कैसे पहुंची छत्‍तीसगढ़ से छपरा, जांच कर रही पुलिस 

खैरा थनाध्यक्ष वीरेंद्र राम ने बताया कि युवती से पूछताछ की जा रही है। नाम-पता का सत्‍यापन किया जा रहा है। वह छत्तीसगढ़ से छपरा कैसे पहुंची इसका पता लगाया जा रहा है। डीएसपी मुनेश्वर प्रसाद सिंह ने भी घटना की जानकारी होने पर थाना पहुंचकर कर पूछताछ की। पुलिस को उसके नक्‍सली होने की आशंका है। हालांकि डीएसपी ने पूछने पर कहा कि गिरफ्तार महिला से पूछताछ की जारी है वह नक्सली है इसकी अभी पुष्टि नहीं हुई है। इसलिए अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है।इधर ग्रामीणों का कहना है कि छपरा से किसी ने बाइक से युवती को हरेराम टोला के पास छोड़ा है। यहां से वह मढ़ौरा के रास्ते पानापुर जाने की फिराक में थी।

छत्‍तीसगढ़ का बस्‍तर जिला है नक्‍सली गतिविधियों का केंद्र

मालूम हो कि सारण जिले का पानापुर प्रखंड नक्सल प्रभावित इलाका है। यहां से ही नक्सली पूरे जिले में अपनी गतविधि संचालित करते है। सारण जिले में नक्सलियों ने कई घटनाओं को अंजाम दे चुके है। इसलिए गिरफ्तार युवती के नक्सली संगठन से संबंध होने की शंका जताई जा रही है। इधर जहां से वह आई है छत्‍तीसगढ का वह बस्तर जिला हार्डकोर नक्सलियों का गढ़ माना जाता है। हालांकि पुलिस इस मामले में अभी उसे अपराधी मानकर जांच कर रही है। इस संबंध में पुलिस कप्तान संतोष कुमार ने पूछे जाने पर बताया कि छतीसगढ़ की युवती रिवाल्वर के साथ पकड़ी गई है, वह नक्सली है कि  नहीं इसकी अभी जांच चल रहा है।

Edited By: Vyas Chandra