पटना। बाकरगंज स्थित एसएस ज्वेलर्स में हुई डकैती के मामले में बरामदगी से आल इंडिया ज्वेलर्स एंड गोल्ड स्मिथ फेडरेशन की बिहार इकाई संतुष्ट नहीं है। बिहार के अन्य जिलों में भी ज्वेलर्स व अन्य व्यवसायियों के साथ हो रहीं आपराधिक घटनाओं को देखते हुए सराफा व्यवसायी काला फीता बांध कर अपना आंदोलन जारी रखेंगे। आल इंडया ज्वेलर्स एंड गोल्ड स्मिथ फेडरेशन के बिहार अध्यक्ष अशोक वर्मा सोना ने कहा कि बाकरगंज लूटकांड में पुलिस नौ किलो सोना और 4.60 लाख रुपये नकद बरामद कर शांत हो गई है। पीडित व्यवसायी के भाई दीपक ने मुझे बताया कि 35 किलो स्वर्ण आभूषणों की लूट हुई थी। पुलिस प्रमाण मांग रही है कि मेरे भाई के स्टाक में इतने आभूषण थे, लेकिन लिखित रूप से कुछ नहीं मिला है, इसलिए जवाब नहीं दिया जा रहा है। वर्मा ने कहा कि छपरा के पानापुर और गोपालगंज के दावे में भी आभूषण व्यवसायी के यहां लूट हुई है। पटना के कदमकुआं थाना अंतर्गत दाऊ जी स्वीट्स के घर डकैती हुई है। इन सिलसिलेवार घटनाओं से स्पष्ट है कि अपराधियों के मन में प्रशासन के प्रति भय नहीं है। पुलिस को इसे गंभीरता से लेना होगा। हमारी मांग है कि जिस थाना के अंतर्गत ऐसी घटना होती है तो थानेदार को निलंबित किया जाए। अशोक ने कहा कि जब तक व्यापारियों का आभूषण बरामद नहीं कर लिया जाता है, हम काला फीता बांध कर विरोध करते रहेंगे।

-बाकरगंज लूट की बरामदगी से

एआइजेजीएफ संतुष्ट नहीं : अशोक सोनार

-डकैती होने पर थानेदार को निलंबित करने की मांग

Edited By: Jagran