पटना, जेएनएन। बॉलीवुड अभिनेत्री और जाने माने अभिनेता सह राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा की बेटी सोनाक्षी सिन्हा को सोशल मीडिया पर इस बात के लिए ट्रोल किया जा रहा है कि उन्हें यह तक नहीं मालूम कि हनुमानजी किसके लिए संजीवनी बूटी लेकर आए थे?

ये सवाल दरअसल, 'कौन बनेगा करोड़पति' के 11वें सीज़न के 25वें एपिसोड में पूछा गया था जिसका जवाब राजस्थान की उद्यमी रूमा देवी 'कर्मवीर प्रतिभागी' के तौर पर हिस्सा ले रही थीं, उन्हें देना था और बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा भी ख़ास मेहमानों के पैनल में थीं।

सोनाक्षी रूमा देवी का साथ दे रही थीं कि इस बीच एक सवाल आया जिसका वह जवाब नहीं दे सकीं और इसके लिए उन्हें लाइफ़लाइन इस्तेमाल करनी पड़ी। 

केबीसी से रूमा देवी के लिए सवाल था- रामायण के अनुसार हनुमान किसके लिए संजीवनी बूटी लेकर आए थे?जवाब के विकल्प थे- सुग्रीव, लक्ष्मण, सीता और राम।

सोनाक्षी को इसका जवाब नहीं मालूम था इसलिए उन्होंने एक्सपर्ट वाली लाइफ़लाइन इस्तेमाल की और फिर इसका सही जवाब- लक्ष्मण बताया।

इसके साथ ही एपिसोड ख़त्म होते ही सोनाक्षी सिन्हा का ट्विटर पर लोग मज़ाक उड़ाने लगे। वहीं कुछ लोग उनका बचाव भी कर रहे हैं। इसके बाद #SonakshiSinha हैशटैग भारत में टॉप पर ट्रेंड करने लगा।

निकुंज नाम के यूज़र ने लिखा है, "सोनाक्षी सिन्हा के पिता शत्रुघ्न सिन्हा के तीन भाई हैं- राम, भरत और लक्ष्मण. सोनाक्षी के भाइयों का नाम लव और कुश है। उनके घर का नाम रामायण है और फिर भी उन्होंने इस सवाल के लिए लाइफ़लाइन इस्तेमाल की।"

एक यूज़र मनीष चौहान ने लिखा, "बेहद निराशाजनक, कोई इतना बुद्धू कैसे हो सकता है?"

वहीं पेवेंद्र पाई नाम के हैंडल से ट्वीट किया गया है, "मुस्लिम होने के बावजूद मैं इसका जवाब दे सकता हूं मगर इस सवाल के लिए सोनाक्षी सिन्हा ने लाइफ़लाइन इस्तेमाल कर ली।"

इस बीच कुछ लोगों ने सोनाक्षी का बचाव भी किया। सुमित कुमार सक्सेना नाम के यूज़र ने लिखा है- नादान हैं, ग़लती हो गई होगी। सुमेध पोहारे ने लिखा- चलो कोई ना, ग़लतियां इंसान से ही तो होती हैं।

वहीं पुलकित नाम के यूज़र ने जबर्दस्त तरीके से सोनाक्षी का बचाव करते हुए लिखा है, "कोई बात नहीं अगर आप जवाब नहीं दे पाईं। मेरे पिता टैक्सेशन एडवाइज़र हैं फिर भी मैं टैक्स की परीक्षा में फ़ेल हो गया था।"

 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप