पटना । बीएन कॉलेज मेन हॉस्टल में सरस्वती पूजा के दौरान अश्लील डांस प्रकरण में पटना सदर एसडीएम और टाउन डीएसपी की जांच टीम ने कॉलेज प्रशासन को क्लीन चिट दे दी है। सूत्रों के अनुसार जांच टीम ने भविष्य में ऐसे आयोजनों के दौरान कॉलेज प्रशासन को सतर्क रहने की हिदायत दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कॉलेज प्रशासन मामला उजागर होने के बाद सक्रिय हो गया। पूजा समिति से जुड़े छात्रों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई। कुलपति और प्राचार्य ने स्वयं निरीक्षण किया। आरोपित छात्रों से हॉस्टल खाली करा लिया गया है। कॉलेज प्रशासन ने भी पांच सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया है। हॉस्टल में पूजा के दौरान कॉलेज प्रशासन की ओर से किसी कर्मी को तैनात नहीं किया गया था। अनुमंडल पदाधिकारी भवेश मिश्रा ने बताया कि जांच प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। मंगलवार को जिलाधिकारी को जांच रिपोर्ट सौंप दी जाएगी।

कॉलेज की जांच टीम आज सौंपेगी रिपोर्ट :

कुलपति प्रो. रासबिहारी प्रसाद सिंह के निर्देश पर प्राचार्य डॉ. राजकिशोर प्रसाद ने पांच सदस्यीय जांच टीम का गठन किया था। टीम मंगलवार को प्राचार्य को रिपोर्ट सौंप देगी। सोमवार को भी टीम के सदस्यों ने हॉस्टल के छात्रों से पूछताछ की। नोटिस के जवाब में अधिसंख्य छात्रों ने घटना के दिन हॉस्टल में उपस्थित होने से इंकार किया है। सरस्वती पूजा समिति के छात्रों ने अपने आवेदन में कहा कि नौ बजे के बाद उन्होंने हॉस्टल परिसर छोड़ दिया था। पूर्ववर्ती छात्रों ने गलत सूचना देकर बार बालाओं को बुलाया था। ऑर्केस्ट्रा की बुकिंग पूजा समिति ने नहीं कराई थी।

: वीडियो से चिह्नित किए जाएंगे छात्र :

प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि वीडियो में छात्रों के चेहरे स्पष्ट दिख रहे हैं। इनसे पहचान कर उनके कार्यक्रम से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। बार बालाओं के साथ नृत्य करते हुए कई पूर्ववर्ती छात्र देखे गए हैं। वीडियो में हॉस्टल में रहने वाले छात्रों को भी चिह्नित किया जा रहा है।

: आवंटन किया गया रद :

प्राचार्य ने बताया कि पूजा समिति के जिन सदस्यों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। उनके हॉस्टल का आवंटन रद कर दिया गया है। पूजा पंडाल और मूर्ति विसर्जन के लाइसेंस के लिए पीरबहोर थाने में दिए गए आवेदन में 10 छात्रों ने हस्ताक्षर किए हैं। जांच टीम इसकी भी पड़ताल कर रही है कि इसमें पूर्ववर्ती छात्र कौन-कौन हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021