पटना, जागरण टीम। Bihar Politics: अपने अंदाज के लिए अक्‍सर सुर्खियों में रहने वाले बिहार के नए वन एवं पर्यावरण मंत्री तेज प्रताप यादव (Minister Tej Pratap Yadav) एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। मामला सरकारी बैठक में बहनोई शैलेश कुमार को ले जाने का है। बिहार राज्‍य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद की पटना प्रधान कार्यालय में हुई बैठक में लालू प्रसाद (RJD Supremo Lalu Prasad) के बड़े दामाद और डा. मीसा भारती (Dr Misa Bharti)  के पति शैलेश कुमार प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन के ठीक बगल वाली कुर्सी पर बैठे। इसकी तस्‍वीर सामने आने पर भाजपा ने जमकर तंज कसा है। भाजपा प्रवक्‍ता निखिल आनंद ने तस्‍वीर शेयर कर चुटकी ली है। 

हमारे भाई शैलेश जी भी साथ बैठे हैं

अपने ट्व‍िटर हैंडल पर निखिल आनंद ने लिखा है कि बिहार के वन एवं पर्यावरण मंत्री श्री तेज प्रताप यादव को कोई हल्‍के में ना लें। हमारे भाई शैलेश जी भी साथ बैठे हैं। निखिल आनंद ने लिखा है, मेरा दावा है कि राजद के सभी मंत्रियों से शैलेश जी ज्‍यादा समझदार, ज्ञानी, टैलेंटेड जरूर हैं। शैलेश भाई का आशीर्वाद रहा तो तेज प्रताप सबसे बेस्‍ट मिनिस्‍टर साबित होंगे। 

तब राजनीति के शीर्ष पर होते शैलेश

निखिल आनंद ने अपनी ट्वीट पर मी‍डिया से बातचीत की। कहा कि शैलेश कुमार इंजी‍नियर हैं। आइआइएम से उन्‍होंने मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। आरजेडी के जितने भी मंत्री हैं उनके मुकाबले तो वे ज्‍यादा पढ़े-लिखे जरूर हैं। अगर वे लालू जी के दामाद की जगह उनके पुत्र होते तो राजनी‍ति में शीर्ष पर होते। उन्‍होंने कहा कि राजद राजनी‍तिक नहीं पा‍रिवारिक दल है। विभागीय बैठक में किसी बाहरी की एंट्री कैसे हो सकती है। तेज प्रताप यादव उन्‍हें ले गए या शैलेश कुमार खुद गए यह तो अलग बात है। 

Koo App

क्या नीतीश जी ने अनुमति दे दिया है कि अब सरकारी बैठकों में बहनोई शामिल ही नही होंगे बल्कि संचालन भी करेंगे

View attached media content

- Sushil Kumar Modi (@sushilmodi) 19 Aug 2022

बता दें कि अपने फेसबुक पर तेज प्रताप ने बैठक की तस्‍वीरें शेयर की हैं। उन्‍होंने लिखा है कि राज्‍य में बढ़ते प्रदूषण को कैसे रोका जा सके, उसपर विचार-विमर्श किया गया। अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रदूषण नियंत्रण कानून का सख्‍ती से पालन कराएं। 

Edited By: Vyas Chandra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट