पटना, जागरण संवाददाता। Patna Weather Forecast: बिहार में सर्दी का असर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। मकर संक्रांति के बाद आम तौर पर ठंड कम हो जाती है, लेकिन इस बार ठीक इसके उल्‍टा हुआ है। मकर संक्रांति से ही बिहार के लोगों को सही मायने में ठंड का अहसास हो रहा है। राज्‍य के अधिकांश जिलों के लिए मौसम विज्ञान केंद्र, पटना ने यलो अलर्ट जारी किया है। इसका मतलब है कि वातावरण में घना कोहरा छाया रहेगा। लोगों को इससे सावधान रहना होगा।

शनिवार को बिहार के 14 जिलों में रहा कोल्‍ड डे

पटना में शनिवार को दोपहर बाद इतना ज्यादा कोहरा छाया कि दिन में ही अंधेरा हो गया। ठंड इतनी ज्यादा बढ़ गई कि लोग शाम को ही घरों की ओर भागने लगे। देखते ही देखते रात आठ बजे तक शहर की अधिकांश बाजार व सड़कें खाली हो गईं। शाम में कोहरा इतना घना हुआ कि 100 मीटर भी दृश्यता मुश्किल से थी। इससे वाहन चलाने में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। शनिवार को राज्य के 14 जिलों में कोल्ड-डे रहा और 31 जिलों में घना कोहरा छाया रहा। आज भी लगभग ऐसा ही मौसम रहने की उम्‍मीद है।

जनवरी के अंत तक बनी रह सकती ऐसी स्थिति

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी संजय कुमार ने कहा, वर्तमान में राजधानी समेत प्रदेश के अधिकांश भागों में घना कोहरा छाया है। विज्ञानियों का कहना है कि वातावरण में मौजूद नमी जैसे ही धूप के संपर्क में आ रही, तेजी से वाष्पीकरण हो रहा। इससे वातावरण कोहरे से भर जा रहा है। ऐसी स्थिति जनवरी के अंत तक बनी रहने की उम्मीद है।

अधिकतम तापमान में चार डिग्री की हुई गिरावट

वातावरण में घना कोहरा छाए रहने से राजधानी पटना के अधिकतम तापमान में शनिवार को चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 16.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जबकि शुक्रवार को अधिकतम तापमान 20.2 डिग्री सेल्सियस था। राजधानी में न्यूनतम तापमान सामान्य के करीब 10.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। गया राज्य का सर्वाधिक ठंडा स्थान रहा। वहां न्यूनतम तापमान 5.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। गया में अधिकतम तापमान 19.9 रिकॉर्ड किया गया, जबकि यहां पर शुक्रवार को तापमान 22.7 डिग्री सेल्सियस था। पूर्णिया व भागलपुर के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई।

लोगों को सावधान रहने की जरूरत

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि वर्तमान स्थिति में लोगों को बेहद सावधान रहने की जरूरत है। खासकर वाहन चालकों को अत्यंत सावधानी से वाहन चलाने की जरूरत है। उनकी जरा-सी लापरवाही घातक साबित हो सकती है। लोगों को भी घरों की खिड़की-दरवाजे बंद रखने होंगे।

यलो अलर्ट वाले जिले

पश्चिमी चंपारण, सिवान, सारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधेपुरा, सहरसा, पूर्णिया, पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, बेगूसराय, लखीसराय, नवादा, कटिहार, भागलपुर, बांका, मुंगेर, खगडिय़ा व जमुई।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021