पटना, जागरण संवाददाता। बिहार में गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद है। मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार 48 घंटों के अंदर प्रदेश के सभी जिलों में बारिश होगी। इस दौरान तेज हवा भी चलेगी। इसकी गति 40-50 किमी प्रतिघंटा तक रहने की उम्मीद है। मौसम विज्ञान केंद्र पटना ने इसे लेकर प्रदेश भर में येलो-अलर्ट जारी किया है। सोमवार को भी इसका असर दिखा है। आंधी-पानी में राज्य सात की मौत हो गई। मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार बंगाल की खाड़ी से नमी युक्त हवा का प्रवाह लगातार जारी रहने से पूरे प्रदेश के मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। इससे अधिकतम तापमान में क्रमिक गिरावट आने से मौसम सुहाना हो गया है। रविवार को पटना के अधिकतम तापमान में सामान्य से तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। पटना मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से जारी तात्‍कालिक अलर्ट में बताया गया है कि सुपौल और अररिया में अगले कुछ घंटों में हल्‍के से मध्‍यम स्‍तर की बारिश हो सकती है। इन इलाकों में वज्रपात और तेज हवाएं चलने की भी संभावना है। 

रविवार को पटना का तापमान 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं बक्सर का अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र पटना से प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के उत्तरी भागों के पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, सारण, सिवान, गोपालगंज, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, अरिरया, किशनगंज, मधेपुरा, सहरसा, पूर्णिया व कटिहार के एक दो स्थानों पर मेघ गर्जन के साथ हल्की बारिश का पूर्वानुमान है।

मौसम विज्ञानी की मानें तो दक्षिण पश्चिम उत्तरप्रदेश में बने चक्रवाती परिसंचरण का क्षेत्र दक्षिण पूर्व उत्तरप्रदेश से झारखंड तक जा रहा है। इन सबके  कारण प्रदेश में आंधी-पानी का सिस्टम बने रहने के आसार हैं। इन सभी प्रभाव को देखते हुए मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से येलो-अलर्ट जारी किया गया है। 

बादल छाए रहने के साथ  सामान्य रहेगा तापमान 

मौसम विज्ञानी की मानें तो नमी युक्त पूर्वी हवा के कारण पटना का मौसम अगले तीन दिनों तक सामान्य बने रहने के आसार है। पटना व इसके आसपास क्षेत्रों में तीन दिनों तक आकाश में बादल छाए रहने, बिजली चमकने का पूर्वानुमान है।

प्रदेश के कई शहरों में हुई बारिश  

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के उत्तरी भागों के पश्चिमी चंपारण के बगहा में सर्वाधिक 40 मिमी बारिश दर्ज किया गया। वहीं पश्चिमी चंपारण के चनपटिया में 37.2 मिमी, गौनाहा में 31.4 मिमी, दरभंगा के जैली में 29.2 मिमी, पूर्वी चंपारण के महिषी में 28.6 मिमी, पूर्वी चंपारण के मोतिहारी में 22.1 मिमी, शिवहर के डुमरी में 20.2 मिमी बारिश दर्ज की गई। प्री-मानसून सीजन में प्रदेश में सामान्य से 13 प्रतिशत अधिक बारिश दर्ज की गई। 

  • 36.4 डिग्री सेल्सियस के साथ बक्सर का अधिकतम तापमान 
  • 34.8 डिग्री दर्ज किया गया पटना का अधिकतम तापमान 
  • पश्चिमी चंपारण के बगहा में सर्वाधिक 40 मिमी बारिश 
  • सामान्य से तीन डिग्री नीचे आया पटना का तापमान 
  • प्रदेश में 30-40 किमी प्रतिघंटा हवा की रफ्तार 

इन जिलों के तापमान में वृद्धि 

सुपौल व फारबिसगंज में एक डिग्री, पूर्णिया में 0.7 डिग्री, अररिया में दो डिग्री, कटिहार में 1.5 डिग्री, सबौर में 0.5 डिग्री की बढ़ोतरी हुई। 

इन जिलों में गिरा अधिकतम पारा 

पटना 1.5 डिग्री, बक्सर 3.7 डिग्री, रोहतास 5.8 डिग्री, औरंगाबाद 5.6 डिग्री, गया 2.9 डिग्री, नवादा 3.7 डिग्री, नालंदा 1.5 डिग्री, वैशाली 0.7 डिग्री, मुजफ्फरपुर 0.4 डिग्री, दरभंगा 0.2 डिग्री, बेगृूसराय 0.2 डिग्री, बांका 1.6 डिग्री, जमुई 1.9 डिग्री, शेखपुरा 2.5 डिग्री, समस्तीपुर 0.1 डिग्री, सीतामढ़ी 0.8 डिग्री, पूर्वी चंपारण एक डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। 

प्रमुख शहरों का तापमान 

  • पटना -  34.8
  • बक्सर - 36.4
  • रोहतास - 35.6
  • औरंगाबाद - 34.1
  • गया - 34.7
  • नालंदा - 34.2
  • वैशाली - 33.5
  • मुजफ्फरपुर - 31.0 
  • समस्तीपुर - 31.4
  • शेखपुरा - 34.7
  • नवादा - 34.7
  • जमुई - 33.6
  • बांका - 32.0 
  • भागलपुर - 33.5
  • सुपौल - 31.4
  • पूर्णिया - 31.4
  • कटिहार - 31.1 
  • (अधिकतम तापमान डिग्री सेल्सियस में ) 

Edited By: Shubh Narayan Pathak