पटना, जागरण संवाददाता। Bihar Weather Forecast: प्रदेश में मानसून की रफ्तार कमजोर पड़ गई है। भारी बारिश का सिलसिला थम सा गया है। लेकिन अब लोग उमस से परेशान हैं। स्थिति ऐसी है कि पंखे की हवा में भी राहत नहीं मिल रही। वर्तमान में मानसून की ट्रफ लाइन हिसार,दिल्ली, हरदोई, दिल्ली, कोरबा एवं कालिंगपट्टनम होते हुए बंगाल की खाड़ी से गुजर रही है। बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इस कारण फिलहाल तो मानसून की भारी बारिश के आसार नहीं हैं। हां स्थानीय कारणों से हल्की बारिश कहीं-कहीं हो रही है।  पटना मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ विज्ञानी संजय कुमार ने कहा कि सुबह से ही तीखी धूप एवं उमस लोगों की परेशानी बढ़ा दे रही है। रविवार को राजधानी में सुबह से ही उमस काफी बढ़ गई थी। लोग पसीने-पसीने हो रहे थे। इस तरह की स्थिति आगे भी जारी रहेगी। 

तीखी धूप से बेचैन रहे लोग

छुट्टी के दिन तीखी धूप की वजह से दोपहर के समय सड़क पर भीड़ कम रही। घर से बाहर निकलने पर जलन का अहसास हो रहा था। कुछ ही देर में पसीने से लोग तरबतर हो जा रहे थे। लेकिन फ‍िलहाल तो इससे राहत मिलना मुश्किल ही दिख रहा है। राज्य में एक बार फिर मानसून सक्रिय होने के बाद ही लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिल सकती है। सोमवार को भी मौसम के तेवर तल्‍ख ही रहेगा। हालांकि कहीं-कहीं बारिश की संभावना है। लेकिन मूसलाधार बारिश की उम्‍मीद वर्तमान की स्थिति में नहीं है। 

बता दें कि इस वर्ष जून से लेकर अगस्‍त तक मानसून की बारिश जमकर हुई। जुलाई में इसमें कुछ कमी रही लेकिन अगस्‍त में भी राज्‍य के कई हिस्‍सों में भारी बारिश, वज्रपात से जनजीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त रहा। नदियां उफनाई रहीं। इस कारण हजारों लोगों को बेघर होना पड़ा। बाढ़ प्रभावित इलाकों के लोग अब तेज धूप की वजह से परेशानी झेल रहे हैं।  

Edited By: Vyas Chandra