पटना, जेएनएन। Bihar Politics: बिहार में कोरोना के महाविस्‍फोट (CoronaVirus Blast) व बाढ़ (Bihar Flood) को लेकर नेता प्रतिपक्ष (Leader of Opposition) तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को घेरा है। उन्‍हाेंने राज्‍य सरकार पर आंकडा़ें का खतरनाक खेल करने का आराेप लगाया है। साथ ही जनता की जान से नहीं खेलने को लेकर आगाह किया है। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री को निशाने पर लेते हुए कहा है कि कोरोना व बाढ़ के संकट काल में मुख्‍यमंत्री जनता की पीड़ा से दूर अपने आलीशान बंगले में आराम कर रहे हैं।

विदित हाे कि बिहार में इन दिनों बाढ़ व काेरोना दोहरा संकट गहराया हुआ है। इससे बड़ी आबादी प्रभावित हो गई है। तेजस्‍वी यादव ने इसे लेकर ही सवाल खड़े करते हुए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उनकी सरकार पर हमला बोला है।

कोरोना की जांच को ले सरकार पर उठाए सवाल

बिहार में कोरोना जांच लगतार बढ़ रही है। इसके साथ बढ़ रहा है मरीजों का आंकड़ा। इसे लेकर नीतीश सरकार को निशाने पर लेते हुए तेजस्‍वी यदव ने ट्वीट किया है कि सरकार कोरोना जांच में आंकड़ों का खतरनाक खेल कर रही है। कोरोना संक्रमण के पांच महीने बीत जाने के बाद भी जांच का आंकड़ा बढ़ाने के लिए एंटीजन टेस्‍ट बढ़या जा रहा है। जबकि, आरटी-पीसीआर टेस्ट नाममात्र के हो रहे हैं। तेजस्‍वी ने आगे आगाह करते हुए लिखा है कि सरकार अपनी विफलताएं छिपाने के लिए लोगों की जान के साथ नहीं खेले।

कहा: संकट काल में बंगले में आराम कर रहे नीतीश

इसके पहले एक और ट्वीट में तेजस्‍वी ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर सीधा हमला बोला है। उन्‍होंने लिखा है कि कोरोना संकट के दौरान लॉकडाउन के दैर में 40 लाख अप्रवासी मजदूर बिहार लौटे, लेकिन नीतीश कुमार अपने आलीशान बंगले से नहीं निकले। उल्टा मजदूरों को बिहार में नहीं घुसने देने की धमकी दी। उन्हें अपराधी, चोर और लुटेरा तक बताया। बिहार में 40 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं, लेकिन वे अपने आलीशान बंगले से नहीं निकले। करोड़ों बिहारवासियों पर कोरोना का खतरा भी मंडरा रहा है, लेकिन वे आलीशान बंगले में ही हैं।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस