पटना, आनलाइन डेस्‍क। Tej Pratap Yadav News राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (RJD Supremo Lalu Prasad Yadav) के बड़े लाल तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। नवरात्र पर उन्‍होंने देवी की पूजा की। कुंवारी कन्‍याओं का पूजन और भोजन कराया। अब उन्‍होंने एक बार फिर बड़ा बयान दे दिया है। उन्‍होंने कहा कि यह रामा सिंह के पिता की नहीं उनके पिता की पार्टी है। रामा सिंह जैसे कितने लोग आए और गए, इससे फर्क नहीं पड़ता। उन्‍होंने बिहार के सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को सलाह दी है कि वे अपने बड़े भाई से मिलें। नवरात्र का समय चल रहा है। वे धमाल कर दें। तेजप्रताप एक वेब पोर्टल से बातचीत कर रहे थे। बता दें कि तेज प्रताप यादव के बगावती तेवर को लेकर उनकी मां राबड़ी देवी को भी दिल्‍ली से आना पड़ा। हालांकि, वे दिल्‍ली लौट भी गईं। तेज प्रताप के तेवर बरकरार हैं। 

पूर्व सांसद रामा सिंह पर खूब बरसे तेज प्रताप 

राजद नेता और पूर्व सांसद रामा सिंह के बयान पर भी उन्‍होंने करारा पलटवार किया है। उन्‍होंने कहा कि रामा सिंह जैसे कितने लोग आए और गए। यह रामा सिंह के पिता की पार्टी नहीं है। यह लालू जी की पार्टी है। इसलिए ऐसे बयानों को वे कोई तरजीह नहीं देते। शिव और कृष्‍ण के भक्‍त हैं। अपनी धुन में रहते हैं। बता दें कि रामा सिंह ने वैशाली में एक बयान दिया था जिसमें उन्‍होंने कहा था कि तेजप्रताप के पार्टी में रहने और नहीं रहने से कोई फर्क नहीं पड़ता।  

बड़े भाई का हाल-चाल पूछ लें नीतीश जी 

तेज प्रताप यादव ने कहा कि मुख्‍यमंत्री जी को उनके पिता लालू प्रसाद से मुलाकात करनी चाहिए। वे लालूजी को बड़ा भाई मानते हैं। इस समय उनके बड़े भाई दिल्‍ली में हैं, तो नीतीशजी को चाहिए कि उनसे जाकर मुलाकात कर लें। नवरात्र के इस समय में नीतीश कुमार यदि लालू जी के साथ मिलकर कोई धमाल कर दें तो यह बड़ी बात होगी। लालू प्रसाद के चुनाव प्रचार में आने और इससे जदयू में बेचैनी की बाबत पूछे गए सवाल का जवाब वे दे रहे थे। उन्‍होंने कहा कि नीतीश जी को ज्‍यादा बेचैनी है तो लालू जी का हाल चाल पूछ लें। उनसे जाकर मिल लें और नवरात्र में मुलाकात कर लें।  

यह भी पढ़ें- तेज प्रताप को कमरे में किया गया बंद, ओसामा की बरात में शामिल होने गए थे सिवान, जानिए क्‍यों हुआ ऐसा

Edited By: Vyas Chandra