बिदुपुर (वैशाली), संवाद सूत्र। लालू प्रसाद (Lalu Prasad Yadav) के बड़े लाल तेज प्रताप यादव (Tejpratap Yadav) पर शिवानंद तिवारी के बाद पूर्व सांसद रामा सिंह ने बड़ा बयान दे दिया है। उन्‍होंने कहा है कि तेजप्रताप रहें या जाएं, इससे राजद को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। पूर्व सांसद राजद नेता रामा किशोर सिंह उर्फ रामा सिंह ने साथ ही यह भी दावा किया है कि विधानसभा उपचुनाव (Bihar Assembly By-Election) में दोनों सीटों कुशेश्‍वरस्‍थान एवं तारापुर (Kusheshwar sthan and Tarapur) में राजद की जीत होगी। यह उपचुनाव संदेश देगा कि बेईमानी से सत्ता का दुरुपयोग कर बिहार में एनडीए की सरकार बनाई गई। इसे जनता स्‍वीकार नहीं करेगी। पूर्व सांसद बिदुपुर बाजार में एक प्रतिष्ठान उद्घाटन के दौरान बात कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि सभी को साथ मिलाकर तेजस्वी यादव के नेतृत्व में राजद हर चुनाव में एनडीए को पटकनी देगा। 

कांग्रेस को सबसे ज्‍यादा तरजीह लालू व तेजस्‍वी ने दी

उन्होंने कांग्रेस के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि यह दो सीटों का उपचुनाव है और इसमें राजद की जीत निश्चित है। इसलिए गठबंधन का सवाल नहीं उठता और जहां तक कांग्रेस की तरजीह का सवाल है तो लालू यादव से लेकर तेजस्वी यादव तक ने कांग्रेस को सबसे ज्यादा तरजीह दी है। उन्होंने तेज प्रताप यादव के राजद से हटने के सवाल पर कहा कि पार्टी महत्वपूर्ण होता है। कोई व्यक्ति महत्वपूर्ण नही होता। पार्टी में लोग आते-जाते रहते हैं। इसलिए किसी व्‍यक्ति से कोई असर नहीं होता। तेजप्रताप की वजह से राजद को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। इस अवसर पर पूर्व विधायक सतीश कुमार, जंदाहा प्रमुख ओम प्रकाश सहनी, देसरी पूर्व प्रमुख रामजन्म राय, राजद प्रदेश महासचिव जवाहर साह समेत कई लोग मौजूद थे। 

वैशाली में ही शिवानंद तिवारी ने दिया था बयान 

गौरतलब है कि इससे पहले वैशाली में ही राजद के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा था कि तेज प्रताप पार्टी में हैं ही नहीं। वे स्‍वत: निष्‍कासित हो चुके हैं। मालूम हो कि लालू के लाल तेज प्रताप यादव ने बगावती तेवर अख्तियार कर रखा है। बीते दिनों उन्‍होंने जेपी आंदोलन की तरह एलपी आंदोलन का ऐलान कर दिया। बताया जाता है कि उन्‍हें मनाने के लिए ही मां राबड़ी देवी दिल्‍ली से यहां आईं। अब लालू प्रसाद के पटना आने का इंतजार किया जा रहा है। 

Edited By: Vyas Chandra