राज्य ब्यूरो, पटना । बिहार में  इन्वेस्टर्स मीट के आयोजन के बाद बीजेपी ने महागठबंधन की सरकार पर हमला किया है। राज्यसभा सदस्य सुशील मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार ने जब-जब बिहार में अपहरण- हत्या वाले डरावने दौर के महाबली लालू प्रसाद से हाथ मिलाया तब-तब निवेशकों का भरोसा टूटा। कहा कि राज्य की कानून-व्यवस्था और उद्यमियों के प्रति शासन के रवैये को लेकर जो भरोसा लालू प्रसाद से हाथ मिलाने से खत्म हुआ, उसे चंद निवेशकों से जबरन हाथ उठवा कर लौटाया नहीं जा सकता। किसकी हिम्मत है कि मुख्यमंत्री के सामने उनके कहने पर हाथ नहीं उठाए।

'सत्ता का रिमोट कंट्रोल लालू प्रसाद के हाथ में'

उन्होंने कहा कि सत्ता का रिमोट कंट्रोल लालू प्रसाद के हाथ जाते ही देश भर के उद्यमियों का वह विश्वास समाप्त हो गया, जो  एनडीए सरकार के उद्योग मंत्री के रूप में शाहनवाज हुसैन ने बड़ी मेहनत से बनाया था। मोदी ने कहा कि वर्ष 2006 में जिन 400 से ज्यादा लोगों ने सरकार में भाजपा के होने पर भरोसा कर बिहार में निवेश किया था, उनका 600 करोड़ रुपये से ज्यादा बकाया नहीं चुकाया गया। मोदी ने कहा कि निवेशकों ने सब्सिडी और अनुदान का बकाया पाने के लिए सुप्रीम कोर्ट तक कानूनी लड़ी, लेकिन अदालत में हार कर भी सरकार ने बकाया नहीं चुकाया। उन्होंने कहा कि महागठबंधन सरकार बनते ही व्यापारियों से लूटपाट और हत्या की घटनाएं बढीं। बाढ़ के एनटीपीसी परिसर में एक माह के भीतर दो बार फायरिंग की वारदात हुई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

'बिहार में गुंडों की डर से चिंतित हैं इन्वेस्टर्स'

वहीं  विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सम्राट चौधरी ने कहा है कि राज्य में अपराधियों और गुंडों की डर से उद्यमी उद्योग लगाने से डर रहे हैं। एनडीए सरकार थी तब हमारे तत्कालीन उद्योग मंत्री ने उद्योग की दिशा में कितने काम किए, लेकिन जब से लालू के सानिध्य में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सता संभाली है, तब से बिहार में ला एंड आर्डर बद से बदतर हो गया है। अपराधी किधर से आएंगे और हमला करते हुए किधर चले जाएंगे ये कोई नहीं जानता है। इन्वेस्टर्स मीट के दौरान माइक्रोमैक्स बायोफ्यूल्स के डायरेक्टर राजेश अग्रवाल की ओर से सबके सामने जाहिर की जाने वाली पीड़ा से समझा जा सकता है। सम्राट चौधरी ने कहा कि किसी राज्य के मुख्यमंत्री के सामने एक उद्यमी सरकार से विनती कर रहा है प्लीज ला एंड आर्डर ठीक कर दीजिए। उद्यमियों चिंता जायज है। मुख्यमंत्री आवास से महज 35 किलोमीटर की दूरी पर बिहटा में चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी जाती है। यही है बिहार का ला एंड आर्डर।

Edited By: Rahul Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट