जागरण टीम, पटना। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) में टूट के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पक्ष में बोलने वाले चिराग पासवान की जुबान पर अब तल्खी आने लगी है। फोन टैपिंग से लेकर आक्सीजन की कमी के मामले में चिराग अब एनडीए सरकार की खामियों पर मुखर होकर अपनी बात रख रहे हैं। दिल्ली से बिहार लौटे चिराग ने गुरुवार को पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बातचीत में बिहार बीजेपी अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल के केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस से मिलने पर बयान दिया। उन्होंने कहा बहुत सी बातें हैं जो ओपने सीक्रेट हैं। इसमें मुझे ज्यादा कुछ कहने की जरूरत नहीं है। 

फोन टैपिंग पर जमुई सांसद चिराग पासवान ने कहा कि यह जांच का विषय है। केवल आरोप लगाने से कुछ नहीं होता। अगर काल टेप की जा रही है तो यह वाकई गलत है। आक्सीजन की कमी से मौत न होने की बात लोकसभा में कहे जाने पर चिराग ने कहा कि मुझे खुद लोग अपनों की रक्षा के लिए फोन करते थे। देश के साथ बिहार आक्सीजन का बड़ा संकट था। आक्सीजन संकट नहीं था, यह कहना बिल्कुल ठीक नहीं है।

नीतीश कुमार पर चिराग ने किया हमला

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमत पर चिराग ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला किया। उन्होंने कहा कि यह तो बड़े आश्चर्य की बात है कि किसी प्रदेश के सीएम को मीडिया के माध्यम से पेट्रोल-डीजट के बढ़ते दामों का पता चलता है। उन्होंने कहा कि 15 साल पहले नीतीश ने शायद कभी बिहार के बारे में सोचा था। बाढ़ के मुद्दे पर भी चिराग ने नीतीश को घेरा। उन्होंने कहा कि जब भी बिहार में बाढ़ आती है तो नीतीश हवाई यात्रा करने लगते हैं। चिराग ने सीएम से आग्रह किया कि वो सड़क मार्ग से बाढ़ का जायजा लें, ऐसे में उन्हें जमीनी समस्या समझ आएगी। 

Edited By: Akshay Pandey