पटना, राज्य ब्यूरो । आज सुबह से लालू प्रसाद के अपने कार्यालय से बेदखल होने की खबर के वायरल होते ही राजद ने फिर से  उनके चैंबर के आगे उनका नेम प्‍लेट लगा दिया है। हालांकि, राजद के प्रदेश कार्यालय में लालू के लिए निर्धारित कार्यालय को अब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के हवाले कर दिया गया है। इसके पहले राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चैंबर के बाहर लालू प्रसाद के बदले अब तेजस्वी यादव का बोर्ड लगा दिया गया था। लालू के जेल जाने के बाद भी पिछले करीब तीन वर्षों से यह कार्यालय राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष के नाम पर चला आ रहा था।

पहले तेजस्‍वी की कुर्सी अलग थी

लालू प्रसाद और राबड़ी देवी (Lalu-Rabri) के बाद तेजस्वी राजद में सबसे ताकतवर (powerful) नेता हैं, किंतु पहले से राजद के प्रदेश कार्यालय में उनके लिए अलग से चैंबर नहीं था। तेजस्वी जब कभी आते तो लालू प्रसाद के चैंबर में ही बैठते थे। कुर्सी अलग होती थी, किंतु अब समय के साथ चीजें भी बदल रही हैं। नेता प्रतिपक्ष और राजद के मुख्यमंत्री प्रत्याशी (CM candidate) होने के बाद तेजस्वी को उनके कद (strature) के हिसाब से कार्यालय की व्यवस्था की गई है, लेकिन इस प्रयास में लालू प्रसाद का चैंबर ही छिन गया है। हालांकि, राजद के सूत्र इस तथ्य से इन्कार करते हैं। उनका कहना है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का बोर्ड खराब हो गया है, जिसे बनवाने के लिए भेजा गया है। जैसे ही बनकर आएगा, तेजस्वी यादव के साथ लालू प्रसाद का नेम प्‍लेट भी उसी चैंबर के बाहर लगा दिया जाएगा।

लालू की जगह लेने के प्रयास में तेजस्‍वी

लालू की अनुपस्थिति में विधानसभा चुनाव (assembly polls) में अपने बूते तेजस्वी ने राजद को जो सफलता दिलाई, उससे अब उनके विरोधी भी उनका लोहा मानने लगे हैं। धीरे-धीरे तेजस्वी राजद में वह जगह लेने के प्रयास में हैं, जो अभी लालू प्रसाद के पास है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021