राज्य ब्यूरो, पटना: प्रदेश जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने शनिवार को कहा कि नेता प्रतिपक्ष व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) विधायक तेजस्वी यादव राजनीतिक कोरोना के शिकार हो गए हैं। यह दिखता नहीं है पर दिमाग पर बहुत असर करता है। संजय सिंह ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को अगर राजनीतिक कोरोना से मुक्ति चाहिए तो उन्हें सकारात्मक सोच के साथ राजनीति करनी होगी। उनकी स्थिति यह है कि वह झूठ के सहारे अपनी राजनीति बढ़ाना चाहते हैैं। संजय ने कहा कि तेजस्वी के दिल में कुछ रहता है और जुबान पर कुछ और। 

कोरोना काल में झूट से संक्रमित हो गए हैं नेता प्रतिपक्ष

संजय ने कहा कि उन्हें नेता प्रतिपक्ष की सेहत की फिक्र हो रही है। कोरोना काल में वह झूठ से संक्रमित हो गए हैं। यह बीमारी इतनी खतरनाक है कि सच देखते हुए भी तेजस्वी यादव उसे बोलने के लिए तैयार नहीं हैैं। नेता प्रतिपक्ष के परिवार व उनके पार्टी के लोगों को अविलंब इसे गंभीरता से लेना चाहिए। बिहार में कोरोना महामारी के बीच राज्य सरकार ने जो कदम उठाए हैैं वह सभी के सामने है पर नेता प्रतिपक्ष को यह सब नहीं दिखता। 

सरकार की सक्रियता से घट रही कोरोना संक्रमण दर : प्रगति

जदयू के प्रदेश प्रवक्ता प्रगति मेहता ने शनिवार को कहा कि सरकार की सक्रियता से बिहार में कोरोना संक्रमण की दर कम हो रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हर पल कोरोना की स्थिति पर खुद नजर रख रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने पूरी स्थिति को ध्यान में रख लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया। अस्पतालों में संसाधनों को बढ़ाया जा रहा। जांच की रफ्तार तेज हुई है। कोई भी भूखा नहीं रहे इसके लिए बड़ी संख्या में जिलों में सामुदायिक रसोई चलाई जा रही है। अस्पतालों में बेड बढ़े हैैं और ऑक्सीजन की कमी को दूर करने का प्रयास हो रहा है।