पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Politics: बिहार में लॉकडाउन खत्‍म होते ही मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने अपने संगठन को धार देना शुरू कर दिया है। पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष आरसीपी सिंह की सक्रियता भी बढ़ गई है। उन्‍होंने शनिवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में बैठकें कीं। उन्‍होंने महादलित, दलित, अति पिछड़ा, युवा, छात्र और महिला प्रकोष्‍ठ के साथ ही समाज सुधार वाहिनी प्रकोष्‍ठ के अधिकारियों के साथ भी बैठक की। इस बीच जदयू दलित प्रकोष्ठ की दक्षिण बिहार इकाई ने शनिवार को अपने जिला अध्यक्षों व लोकसभा प्रभारियों की सूची जारी की है। प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष शत्रुघ्न पासवान ने बताया कि पटना में अमित कुमार पासवान को दलित प्रकोष्ठ का अध्यक्ष बनाया गया है।

इन्हें जिलों की जिम्मेदारी

बांका- जितेंद्र पासवान, मुंगेर- राजदेव प्रसाद, लखीसराय- सुनील कुमार पासवान, शेखपुरा- बलराम पासवान, नालंदा- कामता कुमार, बाढ़- प्रदीप पासवान, भोजपुर- राम पुलिस पासवान, बक्सर- उमाशंकर पासवान, कैमूर- कामता पासवान, रोहतास चंद्रभान प्रताप पासवान, अरवल- अजय पासवान, जहानाबाद- अमरेश पासवान, औरंगाबाद- विजय कुमार पासवान, गया- कैलाश पासवान, नवादा- अशोक पासवान, जमुई- कार्तिक पासवान, भागलपुर- विशुनदेव पासवान।

इन्हें लोकसभा प्रभारी बनाया गया

पटना साहिब- मुकेश कुमार, पाटलिपुत्र- रणविजय पासवान, आरा- मणि पासवान, बक्सर- बिहारी पासवान, काराकाट- शशि कुमार, सासाराम- मनोज पासवान, औरंगाबाद- ओम प्रकाश कुमार, गया- अशोक पासवान, नवादा- राजेंद्र प्रसाद ज्‍योति, जहानाबाद- आजाद पासवान, नालंदा- पप्पू कुमार पासवान, जमुई- विनोद पासवान, बांका- वाल्मीकि तांती, भागलपुर- विनय पासवान, मुंगेर- राजेश रंजन प्रसाद।