जागरण टीम, पटना। बिहार की राजनीति में विवादों को लेकर जीतन राम मांझी का जिक्र खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। अजीबोगरीब बयान देकर लगातार मांझी चर्चा में हैं। 27 दिसंबर को बिहार के पूर्व सीएम ने भोज देने का ऐलान किया है। पहले पंडित ही इस आयोजन में शामिल हो सकते थे अब दलित को भी न्योता दे दिया गया है। इस बीच उनके हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) ने कांग्रेस को चुनौती दे दी है। बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा की माफी मांगने वाली नसीहत देने पर भड़के हम ने शनिवार को कहा है कि कांग्रेसियों की हिम्मत हो तो मांझी पर अंगुली उठाकर दिखाएं। औकात पता चल जाएगी। हम प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि अगर मदन मोहन झा माफी नहीं मांगेंगे तो सोनिया और राहुल गांधी का पुतला फूंककर विरोध दर्ज कराया जाएगा। 

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) ने बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा पर गजेंद्र झा के बयान का समर्थन करने का आरोप लगाया है। पंडितों के लिए मांझी के द्वारा विवादित शब्द बोलने पर गजेंद्र झा ने जीभ काटने वाले को 11 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा कर दी थी। इसके बाद भाजपा ने उन्हें निलंबित कर दिया था। गजेंद्र प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य थे। इसी को लेकर शनिवार को हम ने मदन मोहन झा पर पलटवार किया। हम के राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान ने बयान जारी करते हुए कहा कि मदन मोहन झा राहुल गांधी के इशारे पर बयान दे रहे हैं। गजेंद्र झा का साथ देकर मदन मोहन झा ने कांग्रेस पार्टी की वास्तविकता बता दी है। दानिश ने कहा कि कांग्रेसियों में हिम्मत हो तो मांझी पर अंगुली उठाकर देख लें, उनको उनकी औकात पता चल जाएगी। हम प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस ने अगर मदन मोहन झा पर कारवाई नहीं करती है तो प्रखंड स्तर पर राहुल गांधी और सोनिया गांधी का पुतला फूंका जाएगा। 

Edited By: Akshay Pandey