पटना, राज्य ब्यूरो। बिहार में लाॅकडाउन के प्रतिबंधों के बीच सरकार के मंत्री योजनाओं के क्रियान्वयन या दूसरे कामों से अपने प्रभार वाले जिलों का दौरा कर रहे हैं। यह बात सरकार को नागवार गुजरी है। सरकार ने अब मंत्रियों के जिला भ्रमण पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। मंत्रियों को कोविड-19 के दूसरे लहर की खतरनाक स्थिति के बारे में आगाह किया गया है। उन्‍हें लॉकडाउन की पांबदियों के अनुपालन की सलाह दी गई है। मंत्रिमंडल सचिवालय ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।

मंत्रियों के लॉकडाउन के अनुपालन का सुझाव

मंत्रिमंडल सचिवालय के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार के हस्ताक्षर से जारी पत्र में कहा गया है कि सरकार ने कोरोना महामारी का फैलाव रोकने के लिए लाॅकडाउन और इसके तहत कई प्रकार के प्रतिबंध लगाए हैं। जानकारी मिल रही है कि मंत्रीगण सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन तथा अन्य कार्यों से अपने निर्वाचन क्षेत्र या फिर प्रभार वाले जिलों में भ्रमण कर रहे हैं। उन्हें ज्ञात है कि पूरा राज्य कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में है। वाहनों के आवागमन पर कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं। मंत्री अगर लाॅकडाउन का उल्लंघन करेंगे तो प्रतिबंधों के अनुपालन में कठिनाई होगी।

वीडियों कॉन्‍फ्रेंसिंग से काम करने का सुझाव

मंत्रियों से आग्रह किया गया है कि प्रतिबंध की अवधि के दौरान सरकार संचालित योजनाओं या कोरोना की स्थिति की जानकारी प्राप्त करने के लिए निर्वाचन क्षेत्र या प्रभार वाले जिलों का दौरा न करें। यदि किसी योजनाओं की समीक्षा आवश्यक हो तो वीडियो कान्फ्रेंसिंग के विकल्प पर विचार कर सकते हैं।

  4002 पाजिटिव, 107 की गई जान

बता दें कि करीब 41 दिन बाद रविवार को पूरे राज्‍य में 4,002 नए संक्रमित मिले हैं। इसके पहले 13 अप्रैल को सूबे से एक दिन में 4,157 पाजिटव मिले थे। एक ओर जहां नए मिलने वाले संक्रमितों की संख्या घट रही है तो दूसरी ओर एक्टिव केस भी घटने शुरू हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार प्रदेश में वर्तमान में एक्टिव केस घटकर 40,691 रह गए हैं, फिर भी कोरोना से मौत का सिलसिला जारी है। बीते 24 घंटे में 107 लोगों की जान गई है। बीते एक दिन में 1.32 लाख से ज्यादा टेस्ट किए गए हैं।

मौत के आंकड़ों में कमी नहीं :

सूबे में नए मरीजों की संख्या में भले ही कमी आ रही हो, लेकिन कोरोना संक्रमण से मौत का सिलसिला बदस्तूर जारी है। स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को संक्रमण से 107 लोगों की मौत होने की पुष्टि की है। बता दें कि मार्च 2020 से अब तक राज्य में 4,549 लोगों की जान संक्रमण से गई है।

 

Edited By: Sumita Jaiswal