पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Police News: वीआइपी लोगों को सरकार से केवल बाडीगार्ड ही नहीं, बल्कि मनचाहा बाडीगार्ड चाहिए। ऐसा चाहने वालों में नेता तो है हीं, पुलिस के अधिकारी भी पीछे नहीं हैं। बिहार में पुलिस के वरीय अधिकारियों के द्वारा तबादले के बावजूद पुराने अंगरक्षक ही लंबे समय से रखने पर पुलिस मुख्यालय ने नाराजगी जताई है। मुख्यालय ने इस बाबत अफसरों को सख्त निर्देश दिया है। उम्‍मीद है कि इसके बाद लंबे समय से एक ही व्‍यक्‍त‍ि के साथ ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मियों को नई जगह पर तबादला किया जा सकेगा। इससे पुलिस महकमे की कार्यप्रणाली में सुधार होगा और स्‍टाफ की कार्यक्षमता भी बेहतर होगी।

तबादले के बाद भी चहेते अंगरक्षकों को नहीं छोड़ रहे अधिकारी

पुलिस मुख्यालय के संज्ञान में आया है कि कई वरीय अधिकारी लंबे समय से पुराने अंगरक्षकों की सेवा ले रहे हैं। इसमें कई ऐसे भी अंगरक्षक हैं जिनका तबादला दूसरे जिले या अन्यत्र कर दिया गया है, मगर अफसरों की कृपा से वह वापस प्रतिनियुक्ति पर बुला लिए गए हैं। इसी तरह पुलिस के वरीय अधिकारियों के तबादले के बावजूद भी उनके पुराने अंगरक्षक ही हर जगह उनके साथ बने हुए हैं। पुलिस मुख्यालय ने इस परिपाटी पर आपत्ति जताते हुए अफसरों को सचेत किया है। साथ ही नियुमानुसार, मिले अंगरक्षकों की सेवा लेने को कहा है।

हटाए गए अफसरों की सेवा पर भी एतराज

इसके अलावा पुलिस मुख्यालय ने एक और बात पर आपत्ति जताई है। एसपी के द्वारा प्रशासनिक दृष्टिकोण से हटाए गए पुलिसकर्मियों को रेंज आइजी व डीआइजी के दफ्तर में रखने पर भी आपत्ति जताई गई है। मुख्यालय ने कहा कि यह उचित नहीं है।