पटना, आनलाइन डेस्‍क। INPICS Bihar Panchayat Chunav 2021: बिहार में पंचायत चुनाव के लिए पहले चरण के मतदान में लोकतंत्र की बेहद खूबसूरत तस्‍वीरें देखने को मिल रही हैं। बाढ़ और तमाम अड़चनों के कारण राज्‍य में पंचायत चुनाव 11 चरणों में किया जा रहा है। पहले चरण में राज्‍य के 10 जिलों में चुनाव की प्रक्रिया पूरी कराई जा रही है। आज हो रहे मतदान के जरिए 12 प्रखंडों में मुखिया, सरपंच, वार्ड सदस्‍य, पंच, पंचायत समिति सदस्‍य और जिला परिषद सदस्‍य के 14 हजार से अधिक पदों के लिए चुनाव होना है। मतदान में महिलाओं से लेकर बुजुर्गों तक में खूब उत्‍साह देखने को मिल रहा है।

गया जिले के खिजरसराय में अर्द्धसैनिक बलों के जवान चुनाव वाले इलाके में लगातार गश्‍त करते रहे। गया का इलाका नक्‍सल प्रभावित माना जाता है।

बांका जिले के एक बूथ पर प्रत्‍याशियों के पोलिंग एजेंट बगैर मास्‍क के ही नजर आए। ज्‍यादातर इलाकों में ऐसी ही तस्‍वीरें आम रहीं।

गया जिले के बेलागंज प्रखंड के बूथों पर भी सुबह से ही मतदाताओं की कतार लगने लगी थी। बूथ संख्‍या 118 और 119 एक ही जगह होने के कारण यहां दो कतारें लगी थीं।

जमुई जिले में भी पंचायत चुनाव के प्रथम चरण के लिए मतदान हो रहा है। यहां महिला और पुरुष अलग-अलग कतार में लगकर मतदान करते नजर आए।

कैमूर जिले के कुदरा प्रखंड के अंतर्गत एक बूथ के बाहर बारिश की वजह से कीचड़ हो गया। ग्रामीण इलाके के तमाम इलाकों ऐसी दिक्‍कतों के बावजूद लोगों के उत्‍साह में कमी नहीं दिखी।

गया जिले के खिजरसराय प्रखंड के एक बूथ पर मतदाताओं की लंबी कतार नजर आई। लोग इंतजार करने के लिए तैयार थे, लेकिन बिना मतदान किए घर लौटने के लिए तैयार नहीं थे।

जहानाबाद जिले के काको प्रखंड के खालिसपुर पंचायत के उत्क्रमित मध्य विद्यालय खालिसपुर में महिला और पुरुष मतदाताओं की अलग-अलग लंबी कतार सुबह से ही लग गई थी।

अरवल जिले के बंशी प्रखंड के जिंदापुर में मतदान के लिए मतदाताओं का उत्‍साह देखते ही बन रहा था। यहां भी महिला और पुरुष मतदाताओं की दो कतारें लगी थीं।