कुचायकोट (गोपालगंज), जागरण संवाददाता। बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर खूनी संघर्ष भी देखने को मिल रहा है।  गोपालगंज के कुचायकोट थाना क्षेत्र के बलथरी गांव में चुनावी रंजिश को लेकर भोपतापुर के मुखिया और पूर्व मुखिया के समर्थक आपस में भिड़ गए। इस दौरान एक दूसरे पर ईंट पत्थर फेंके गए तथा रायफल से फायरिंग कर जमकर तोड़फोड़ किया गया। मारपीट तथा फायरिंग में एक पक्ष से चार तथा दूसरे पक्ष से तीन लोग घायल हो गए। एक पक्ष के घायलों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कराया गया। वहीं दूसरे पक्ष के घायलों को सदर अस्पताल लाया गया। जहां चारों घायलों की हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने उन्हें आइजीएमएस पटना रेफर कर दिया।

चुनावी रंजिश में हुई गोलीबारी

बताया जाता है कि बलथरी गांव के निवासी अखिलेश  शाही भोपतापुर पंचायत के मुखिया हैं। इसी गांव की निवासी अल्पना शाही भोपतापुर पंचायत की पूर्व मुखिया हैं। गुरुवार की देर शाम चुनावी रंजिश को लेकर मुखिया अखिलेश शाही तथा पूर्व मुखिया अल्पना शाही के समर्थकों के बीच विवाद हो गया। देखते ही देखते दोनों पक्ष के लोग आपस मेंं भिड़ गए। लाठी डंडा से दोनों पक्ष के बीच मारपीट होने लगी। ईंट पत्थर भी चलाए जाने लगे। इसी दौरान गोलीबारी शुरू हो गई। 

जिससे पूरे गांव में अफरा तफरी मच गई। मारपीट तथा गोलीबारी में पूर्व मुखिया के पक्ष के अंकित शाही, शुभम राय, रीना देवी व रंजीत शाही तथा दूसरे पक्ष के मुखिया अखिलेश शाही, नवीन शाही व मनीष सिंह घायल हो गए। घटना के बाद घायल मुखिया अखिलेश शाही सहित इनके पक्ष के तीनोंं लोगों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कुचायकोट में कराया गया। वहीं दूसरे पक्ष के घायल अंकित शाही, शुभम राय, रीना देवी व रंजीत शाही को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां चारों की हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने इन्हें आइजीएमएस पटना रेफर  कर दिया।

पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

इस घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मुखिया अखिलेश शाही  सहित तीन लोगोंं को हिरासत मेंं ले लिया। पुलिस ने घटनास्थल से तीन खोखा बरामद किया है। दो पक्ष के बीच मारपीट व फायरिंग से बलथरी गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है। इसके पुलिस गांव में गश्त कर रही है। इस संबंध में थानाध्यक्ष अश्विनी तिवारी ने बताया कि घटना को लेकर मुखिया पक्ष ने घटना को लेकर आवेदन दिया है, जबकि दूसरे पक्ष से आवेदन नहीं मिला है। मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। 

Edited By: Rahul Kumar