पटना, जेएनएन। बाढ़ से पीड़ित बिहार के 227650 परिवारों को प्रति परिवार 6000 रुपये का भुगतान किया गया है। इस राशि का ट्रांसफर एनआइसी के सहयोग से पीएफएमएस के जरिये सीधे लाभार्थियों के खाते (डीबीटी- डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) में ट्रांसफर किया जा रहा है, जिसकी सूचना उन्हें एसएमएस के माध्यम से मिल जाएगी। 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को इसका शुभारंभ किया है। पहले चरण में बाढ़ग्रस्त जिलों के इतने परिवारों को उनके खाते में जो राशि भेजी गई है वह 136 करोड़ 98 लाख 94 हजार रु है। सहायता राशि जिलों के प्रभावित परिवारों के बैंक खाते में भेज दी गई है, जो उन्हें 48 घंटे के अंदर प्राप्त हो जाएगी।

बता दें कि बाढ़ग्रस्त 15 जिलों के 95 प्रखंडों के 616 पंचायतों में करीब 722000 परिवार बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ से प्रभावित परिवारों को निर्धारित सहायता राशि प्रति परिवार 6000 रुपए की दर से रिलीफ का भुगतान किया जाना है। यह राशि उनके बैंक खाते में जाएगी। इसकी शुरुआत खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की है। 227600 परिवारों को आज उनके खाते में राशि भेजी गई है जो 48 घंटे के अंदर मिल जाएगी।

पहले चरण में बाढ़ग्रस्त जिलों के कुल 2,27,649 सत्यापित परिवारों को 6000 रुपये प्रति परिवार की दर से कुल 1,36,58,94,000 रुपये अनुग्रह सहायता राशि का ट्रांसफर पीएफएमएस प्रणाली के माध्यम से आईसीआईसीआई बैंक द्वारा सीधे लाभार्थियों के खाते में किया गया।

शेष परिवारों के सत्यापन का कार्य किया जा रहा है। सत्यापन होने के बाद उनहें भी अनुग्रह सहायता राशि का वितरण जल्द ही किया जायेगा। 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप