सारण, जेएनएन। Bihar Assembly Election 2020: राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सु्प्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के खिलाफ उनकी बहू ऐश्‍वर्या राय (Aishwarya Rai) ने मोर्चा संभाल लिया है। लालू परिवार (Lalu Family) के खिलाफ जब वे ताल ठोक कर सड़कों पर निकलीं, तो देखते बन रहा था। उन्‍होंने पिता चंद्रिका राय (Chandrika Rai) के पक्ष में वोट मांगने के लिए उनके चुनाव क्षेत्र सारण के परसा (Parsa Assembly Seat) में रोड शो किया। वहां उनका मुकाबला लालू प्रसाद यादव के करीबी माने जाने वाले छोटेलाल राय (Chhote Lal Rai) से है। ऐश्‍वर्या पर उनके पति व लालू के लाल तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने तलाक का मुकदमा (Divorce Case) दायर कर रखा है। अब सवाल यह है कि क्‍या ऐश्‍वर्या राय अपने पति तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) के खिलाफ भी चुनाव प्रचार (Election Campaign) करने उनके विधानसभा क्षेत्र हसनपुर (Hasanpur Assembly Seat) जाएंगी?

पिता के लिए मांगे वोट, निशाने पर ससुराल

ऐश्‍वर्या राय अपने ससुर लालू प्रसाद यादव की पार्टी के खिलाफ वोट मांगने सड़क पर उतरीं तो उन्‍हें देखने हुजुूम उमड़ पड़ा। शुक्रवार को इस दौरान उन्‍होंने अपने पर लालू परिवार द्वारा किए गए अन्‍याय की भी चर्चा की। उन्‍होंने न केवल अपने पिता के लिए वोट मांगे, बल्कि लोगों से लालू परिवार के सभी सदस्‍यों सहित आरजेडी को हराने की भी अपील की।

लालू परिवार के खिलाफ संभाल लिया मोर्चा

हाल ही में ऐश्वर्या राय ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की रैली के दाैरान उनके पैर छूकर आशीर्वाद लिया था। इसके पहले से ही उनकी राजनीति में एंट्री व लालू परिवार के खिलाफ चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे थे। माना जा रहा था कि वे अपने पति तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) के खिलाफ चुनाव मैदान में कूदेंगी। कहा जाता है कि उनके डर से ही तेज प्रताप यादव ने अपनी महुआ की सीट को छोड़ कर सुरक्षित माने जा रहे हसनपुर सीट से चुनाव लड़ने का फैसला किया। ऐश्‍वर्या विधानसभा चुनाव के मैदान में तो नहीं कूदीं, लेकिन अब पिता के चुनाव प्रचार के साथ लालू परिवार के खिलाफ मोर्चा संभाल चुकीं हैं।

पति तेज प्रताप ने किया है तलाक का मुकदमा

विदित हो कि तेज प्रताप यादव ने ऐश्‍वर्या राय के खिलाफ शादी के छह महीने के भीतर ही तलाक का मुकदमा (Divorce Case) कर दिया। इसके बाद भी लंबे समय तक ऐश्‍वर्या अपनी ससुराल में ही रहीं, लेकिन एक दिन हाई वोल्‍टेज ड्रामा के बाद सास राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने उन्‍हें वहां से निकाल दिया गया। तब से वे अपने पिता चंद्रिका राय के साथ रहतीं हैं। चंद्रिका राय बीते विधानसभा चुनाव में आरजेडी के विधायक बने थे, लेकिन बेटी के शादी के रिश्‍ते मे आई कड़वाहट के बाद उनका लालू परिवार से संबंध बिगड़ गया और उन्‍होंने जेडीयू ज्‍वॉइन कर लिया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस