पटना, जागरण टीम। Bihar Crime News: बिहार में शुक्रवार की सुबह लूट के दौरान डबल मर्डर व सामूहिक दुष्‍कर्म की दो बड़ी वारदातों से सनसनी फैल गई। गया में देर रात दो व्‍यवसायियों को लुटेरों ने भून डाला तो पटना में एक महिला को नौकरी देने के बहाने घर बुलाकर सामूहिक दुष्‍कर्म किया गया। उधर, बांका व पूर्वी चंपारण में पहले की वारदाताें में घायल दो लोगों की मौत हो गई। पूर्वी चंपारण की घटना के विरोध में शुक्रवार को जनाक्रोश सड़कों पर उतर आया है। आक्रोशित भीड़ ने कार्रवाई की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया है।

गया: लूटपाट के दौरान दो व्यवसायियों को भून डाला

गया जिले के आमस थाना के हरिदासपुर के पास रात्रि के समय हथियारबंद अपराधियों ने लूटपाट के बाद दो व्यवसायियों को भून डाला। दोनों की मौत घटना स्थल पर ही हो गई। दाेनों मृतक भाई थे। वे नालंदा के रहने वाले बर्तन के व्यवसायी थे।

गया से घर लौटते वक्‍त हुई वारदात: आमस थाना अध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने बताया कि दोनों व्यवसाई इमामगंज रानीगंज बाजार से बर्तन पहुंचा कर अपने पिक-अप वैन से वापस लौट रहे थे। इसी क्रम में घात लगाए अपराधियों ने हरिदासपुर लोहा पुल के पास हथियार का भय दिखाते हुए गाड़ी को रुकवा दिया और लूटपाट करने लगे। इस दौरान दोनों व्यवसाई भाई अपराधियों से भिड़ गए। हफर, अपराधियों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़े, जिस कारण अपराधी गाड़ी में रखे पैसे की लूट नहीं कर सके। वे तत्‍काल भा गए।

पटना: विधवा महिला के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म

पटना के मलाही पकड़ी में एक विधवा महिला के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म की वारदात हुई है। बताया जाता है कि

एक बीमा कंपनी के दो कर्मचारियों ने पीड़ित महिला को नौकरी देने के बहाने घर पर बुलाकर सामूहिक दुष्‍कर्म किया। पुहलस आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर चुकी है।

बांका: मारपीट व पथराव में घायल की मौत

बांका के गोड़ा गांव में नल के जल का पाइप लगाने के विरोध में मारपीट में जख्मी वृद्ध जीतू यादव की मौत के बाद गांव में तनाव है। वहीं, गंभीर रुप से जख्मी दिवाकर यादव की हालत गंभीर है। ज्ञात हो कि गांव में गुरुवार को नल जल योजना के तहत पाइप बिछाने के दौरान दिवाकर यादव और मनोज यादव के बीच दोनों ओर से मारपीट व पत्थरबाजी के दौरान एक पत्थर जीतू को लग गया था। इलाज के दौरान देर रात उसकी मौत हो गई।

पूर्वी चंपारण: हत्‍या के विरोध में सड़क जाम

उधर, पूर्वी चंपारण के सुगौली थाना क्षेत्र के कोबेया गांव में बीते दिनों हुए हमले में घायल ग्रामीण हरेंद्र मांझी की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने शुक्रवार को हत्‍या के इस मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया है। विदित हो कि बीते छह अगस्त की शाम कोबेया बाजार में मुदा छपरा गांव के दबंगों ने महादलितों को जमकर पीटा था। इसमे घायल हरि मांझी की बीती रात इलाज के दौरान मौत हो गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस