बिहटा (पटना), संवाद सूत्र। Bihar Coronavirus Update News: बिहार की राजधानी पटना के नजदीक बिहटा के सिकंदरपुर स्थित ईएसआइसी अस्पताल एंड मेडिकल कॉलेज के कोविड अस्पताल का जिम्मा शनिवार से आर्मी मेडिकल कॉर्प टीम ने संभाल लिया। शनिवार को आर्मी के 11 चिकित्सकों सहित 25 पैरा मेडिकल स्टाफ ने योगदान दिया। वहीं, अस्पताल में पहले से मौजूद 50 बेड को बढ़ाने के बारे में आर्मी मेडिकल कॉर्प की टीम व अधिकारियों के साथ बैठक हुई। इसी के साथ ईएसआइसी अस्‍पताल में ड्यूटी कर रहे आइजीआइएमएस के छह डॉक्‍टरों को सोमवार से लौटने को कह दिया गया है। हालांकि आर्मी अफसरों का यह भी कहना है कि इस अस्‍पताल में राज्‍य सरकार और ईएसआइसी के मेडिकल स्‍टाफ भी सेवा देते रहें, क्‍योंकि उनके पास इतने बड़े स्‍टाफ के लिए पर्याप्‍त मानव बल उपलब्‍ध नहीं है।

अस्‍पताल में सुविधाएं और बेड बढ़ाने पर भी हुई चर्चा

शनिवार को हुई बैठक में आर्मी कमांडर प्राप्ति श्री, सीओ रविकांत नारायण, मेडिकल मेजर जनरल राजपाल पूनिया, मेडिकल सुपरिटेंडेंट मनमोहन मिश्रा, दानापुर एसडीओ विनोद दूहन, बिहटा रेफरल चिकित्सा प्रभारी डॉ. कृष्ण कुमार, डॉ संजय कुमार व अमित चंदन सहित ईएसआइसी व डीआरडीओ की टीम शामिल हुए। इस दौरान कोरोना के बढ़ते मरीजों के लिए अस्पताल में तत्काल सुविधा बढ़ाने एवं अन्य आवश्यक कार्रवाई पर विस्तार से चर्चा हुई।

200 बेड का कोविड अस्‍पताल शुरू करने की तैयारी

आर्मी कमांडर प्राप्ति श्री ने कहा, फिलहाल आर्मी के 11 चिकित्सक व 25 पैरा मेडिकल स्टाफ पहुंचे हैं। अभी अस्पताल में उपलब्ध 50 बेड को सुचारू रूप से चलाया जाएगा। जल्द इसे 200 बेड का किया जाएगा। अस्पताल में 150 वेंटिलेटर बेड की सुविधा है और अन्य सभी बेडों पर ऑक्सीजन की सुविधा है। बहुत जल्द आर्मी व डीआरडीओ, ईएसआइसी आपसी सामजंस्य स्थापित बेड बढ़ाए जाएंगे।

500 बेड का अस्पताल शुरू हो तो आसान होगा उपचार : डॉ. गगन

कोविड से प्रतिदिन हालात बिगड़ती चली जा रही है। गंभीर रोगियों को भर्ती करने की समस्या खड़ी होने लगी है। पीडि़तों के लिए बेड नहीं बढ़ रहे हैं, पर मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में ईएसआइसी अस्पताल में 500 बेड के कोविड अस्पताल की कमी महसूस हो रही है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता डॉ. अशोक गगन ने तुरंत 500 बेड के अस्पताल में तब्दील कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार को ईएसआइसी अस्पताल में उपलब्ध संसाधनों का उपयोग कर लोगों को बचाना चाहिए।